DA Image
हिंदी न्यूज़ › विदेश › अमेरिका में अश्वेतों और एशियाई नागरिकों से नफरत बढ़ी
विदेश

अमेरिका में अश्वेतों और एशियाई नागरिकों से नफरत बढ़ी

डॉयचे वेले,दिल्लीPublished By:
Wed, 01 Sep 2021 01:00 PM
अमेरिका में अश्वेतों और एशियाई नागरिकों से नफरत बढ़ी

अमेरिका में अश्वेतों और एशियाई लोगों के खिलाफ घृणा अपराध पिछले एक साल में तेजी से बढ़े हैं. 2020 में पुलिस को रिपोर्ट किए गए ऐसे अपराधों की संख्या में 40 से 70 प्रतिशत की वृद्धि हुई.फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) की ओर से मंगलवार, 31 अगस्त को जारी ताजे आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में पिछले साल अश्वेत और एशियाई अमेरिकियों के खिलाफ विभिन्न अपराध दर का उल्लेख किया गया है. अश्वेतों और एशियाई लोगों के खिलाफ अपराध के मामले में साल 2020 विशेष रूप से बुरा रहा. पिछले साल जब बड़े पैमाने पर ब्लैक लाइव्स मैटर पर विरोध हुआ, तो अमेरिका में नस्लवाद से जुड़े अपराध भी बढ़े. अमेरिका में अश्वेत नागरिकों के खिलाफ नस्लवादी और विशेष रूप से घृणा अपराधों की संख्या में 40 फीसदी की वृद्धि हुई और उनकी संख्या जो कि 2019 में 1,972 थी वह बढ़कर 2020 में 2,755 हो गई. 2019 की तुलना में 2020 में सालाना दर्ज किए गए अपराधों की संख्या पिछले 12 वर्षों में अपने उच्चतम स्तर पर रही. इसके अलावा यह उन अपराधों की संख्या है जो पुलिस को सूचित किए गए हैं. जिन घटनाओं की पुलिस में शिकायत नहीं की गई है, उनमें यह संख्या काफी अधिक है. अश्वेत नागरिकों के खिलाफ अपराध एफबीआई द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल अमेरिका में पुलिस अधिकारियों द्वारा अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के विरोध के बाद व्यापक विरोध प्रदर्शन हुए

इसके बावजूद देश में अश्वेत नागरिकों के खिलाफ नस्लवादी और विशेष रूप से घृणा अपराधों की बढ़ोतरी हुई. एफबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल देश में कई एशियाई लोगों को भी विभिन्न नस्लवादी कारणों से निशाना बनाया गया था. 2019 में, एशियाई अमेरिकियों के खिलाफ पुलिस को कुल 161 नस्लवादी या जानबूझकर किए गए आपराधिक हमलों की सूचना मिली थी. इसके विपरीत पिछले साल ऐसे अपराधों की संख्या 70 फीसदी बढ़कर 274 हो गई. एक महत्वपूर्ण पहलू यह है कि अमेरिका में एशियाई मूल के लोगों के खिलाफ घृणा अपराधों की दर कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद से बढ़ी है और ताजा आंकड़े इस प्रवृत्ति की पुष्टि करते हैं. अमेरिकी अटॉर्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने अश्वेतों और एशियाई लोगों के खिलाफ घृणा अपराधों पर ताजा वार्षिक आंकड़ों के जारी होने के बाद कहा कि आंकड़े समस्या की ओर इशारा करते हैं और इसके समाधान के लिए तत्काल और पूर्ण ध्यान देने की जरूरत है. रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से आधे से अधिक अपराधों में पीड़ितों को अपमानित, प्रताड़ित और धमकाया गया. लगभग 18 फीसदी अपराध के मामलों में पीड़ितों पर गंभीर शारीरिक हमले शामिल थे. अमेरिका में पिछले साल रंग या नस्ल से जुड़े घृणा अपराधों में कम से कम 22 लोग मारे गए थे. एए/सीके (रॉयटर्स, एएफपी)

संबंधित खबरें