DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्दयी हत्यारे को मिली कठोर सजा, जहर का इंजेक्शन देकर मारा गया

अमेरिका में एक कुख्यात नस्लवादी हत्या के मामले में दोषी ठहराये गए श्वेत व्यक्ति को टेक्सास शहर में बुधवार को जहर का इंजेक्शन देकर मौत की सजा दे दी गई। श्वेत व्यक्ति ने एक पिकअप ट्रक के पीछे अश्वेत व्यक्ति को बांध कर उसे घसीटा था।

टेक्सास के हंट्सविले में टेक्सास स्टेट पेनिटेन्चरी (जेल) में रात 7.08 बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार गुरुवार सुबह 8 बजे) पर 44 वर्षीय जॉन विलियम किंग को जहर का इंजेक्शन देकर मौत की नींद सुला दिया गया। किंग उन तीन श्वेत व्यक्तियों में शामिल था जिन्हें 1998 में जेम्स बर्ड जूनियर की हत्या का दोषी ठहराया गया था। अमेरिका के हाल के इतिहास में यह सबसे भीषण नस्लवादी हत्याओं में से एक है। लॉरेंस ब्रेवर को 2011 में मौत की सजा दी गई थी जबकि जांच में जांचकर्ताओं का साथ देने वाले शॉन बेरी को आजीवन कारावास की सजा दी गई। 

नशे की हालत में की थी हत्या

जॉन विलियम किंग, लॉरेंस ब्रेवर और शॉन बेरी ने नशे की हालत में 1998 में जेम्स बर्ड की हत्या कर दी थी।अदालत में सुनवाई के दौरान बेरी ने स्वीकार किया था कि वह और उसके दो अन्य साथी बीयर पी रहे थे। इन्होंने नशे की हालत में देश के दूरदराज की एक सड़क पर 1982 फोर्ड पिकअप ट्रक से बर्ड को बांध कर घसीटा और इसके चलते उसकी मौत हो गई थी। 

सऊदी में सामूहिक मौत की सजा पर डेमोक्रेट्स ने चिंता जताई 

अमेरिका में प्रमुख डेमोक्रेट्स सांसदों ने सऊदी अरब में सामूहिक मौत की सजा दिए को लेकर चिंता व्यक्त की है और उस देश के साथ अमेरिका के संबंधों पर पुनर्विचार का आह्वान किया है। हालांकि ट्रंप प्रशासन ने इस मुद्दे पर केवल अप्रत्यक्ष रूप से चिंता व्यक्त की है। सऊदी अरब ने मंगलवार को 37 नागरिकों का सर धड़ से अलग कर दिया था जिसमें करीब सभी लोग अल्पसंख्यक शिया समुदाय से थे। मौत के बाद एक व्यक्ति को सूली पर चढ़ाया गया और संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि जब आरोप लगाया गया था तब इनमें से कम से कम तीन व्यक्ति नाबालिग थे। डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से अमेरिका में राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनने की दावेदार सीनेटर बर्नी सैंडर्स ने कहा कि सामूहिक मौत की सजा यह रेखांकित करती है कि अमेरिका के लिए सऊदी अरब में निरंकुश शासन के साथ संबंधों को फिर से परिभाषित करना कितना जरूरी हो गया है। सैंडर्स ने कहा कि अमेरिका को यह दिखाना चाहिए कि सऊदी अरब मानवाधिकारों का उल्लंघन जारी नहीं रख सकता।

दर्दनाकः चीन में लिफ्ट गिरने से 11 लोगों की मौत, दो घायल

27 सालों से कोमा में थी महिला, यह सुनते ही अचानक आया होश

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:harsh punishment on racist killing killer killed by poison injection