ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेश7 अक्टूबर की साजिश रचने वाला हमास कमांडर सुरंग में घूमता मिला, इजरायल बोला- जिंदा या मुर्दा; पकड़कर रहेंगे

7 अक्टूबर की साजिश रचने वाला हमास कमांडर सुरंग में घूमता मिला, इजरायल बोला- जिंदा या मुर्दा; पकड़कर रहेंगे

इजरायल ने साफ किया है कि वह सिनवार को जिंदा हो या मुर्दा पकड़कर ही रहेगा। वीडियो क्लिप में सिनवार को दक्षिणी गाजा शहर के नीचे एक सुरंग में उसकी पत्नी और तीन बच्चों के साथ दिखाया गया है।

7 अक्टूबर की साजिश रचने वाला हमास कमांडर सुरंग में घूमता मिला, इजरायल बोला- जिंदा या मुर्दा; पकड़कर रहेंगे
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,तेल अवीवWed, 14 Feb 2024 03:14 PM
ऐप पर पढ़ें

इजरायल और हमास के बीच पिछले कई महीने से युद्ध चल रहा है। अब तक 28 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। हमास के आतंकियों ने सात अक्टूबर को इजरायल में अचानक हमला कर दिया था, जिससे कई लोगों की मौत हो गई और बड़ी संख्या में लोगों को बंधक बना लिया। इसके बाद से ही इजरायल ने बदला लेते हुए गाजा पट्टी में अब तक हमास के हजारों आतंकियों को ढेर कर दिया है। सात अक्टूबर के हमले के बाद से साजिश रचने वाला हमास कमांडर याह्या सिनवार गायब था। अब इजरायल रक्षा बलों (आईडीएफ) ने एक फुटेज जारी की है, जिसमें दावा किया गया कि हमास कमांडर याह्या सिनवार अपने परिवार के सदस्यों के साथ गाजा सुरंग से गुजर रहा है। 

इसके बाद इजरायल ने साफ किया है कि वह सिनवार को जिंदा हो या मुर्दा पकड़कर ही रहेगा। लगभग एक मिनट लंबे इस वीडियो क्लिप में सिनवार को दक्षिणी गाजा शहर के नीचे एक सुरंग में उसकी पत्नी और तीन बच्चों के साथ उसे दिखाया गया है। इसका नेतृत्व उसका भाई इब्राहिम कर रहा था। हालांकि, कैमरे के सामने कमांडर की पीठ दिखाई दे रही है, लेकिन आईडीएफ का दावा है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल करके सिनवार की पहचान कर ली गई है।

एनडीटीवी के अनुसार, 61 साल का सिनवार हमास के एजदीन अल-कसम ब्रिगेड का पूर्व कमांडर हैं और 2017 में फिलिस्तीनी समूह के प्रमुख के रूप में चुना गया था। उसने साल 2011 में अपनी रिहाई से पहले इजरायली जेलों में 23 साल बिताया है। हाल ही में आईडीएफ सैनिकों द्वारा प्राप्त हमास के सीसीटीवी फुटेज में सिनवार स्वस्थ दिखाई दे रहा है और एक बैग ले जा रहा है, जबकि उसकी बेटी एक गुड़िया पकड़े हुए है। आईडीएफ का दावा है कि फुटेज सुरंगों से लिया गया था। 

आईडीएफ के प्रवक्ता डैनियल हगारी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "एक वीडियो या दूसरा वीडियो वास्तव में मायने नहीं रखता है। जो महत्वपूर्ण है वह खुफिया जानकारी है जो हमें हमास के वरिष्ठ अधिकारियों और बंधकों तक पहुंचने की अनुमति देगी। सिनवार की तलाश तब तक नहीं रुकेगी जब तक हम पकड़ नहीं लेते उसे जिंदा या मृत।'' हगारी ने यह भी दावा किया कि इस महीने की शुरुआत में इजरायली सैनिकों ने सिनवार सहित हमास के कई सैन्य कमांडरों के करीबी रिश्तेदारों को हिरासत में लिया गया था। हिरासत में लिए गए लोगों में हमास के राफा ब्रिगेड का कमांडर राफा सलामेह के पिता और हमास का एक अन्य वरिष्ठ कमांडर हुस्नी हमदान का बेटा भी शामिल है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें