ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशपाकिस्तान में चल रहा गोलीबारी का खेल, पहले 9 लोगों को गोलियों से भूना; चलती कार को भी बनाया निशाना

पाकिस्तान में चल रहा गोलीबारी का खेल, पहले 9 लोगों को गोलियों से भूना; चलती कार को भी बनाया निशाना

बलूचिस्तान प्रांत में अज्ञात हमलावरों ने कम से कम 11 लोगों की हत्या कर दी। पहले उन्होंने बंदूक की नोक पर बस रुकवाकर नौ लोगों को निशाना बनाया। फिर चलती हुई कार भी फायरिंग की, जिसमें दो और लोग मारे गए।

पाकिस्तान में चल रहा गोलीबारी का खेल, पहले 9 लोगों को गोलियों से भूना; चलती कार को भी बनाया निशाना
Himanshu Tiwariएजेंसियां,नई दिल्लीSat, 13 Apr 2024 04:40 PM
ऐप पर पढ़ें

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत में अज्ञात हमलावरों ने कम से कम 11 लोगों की हत्या कर दी। इस लोगों में नौ लोग पाकिस्तान के पंजाब प्रांत से ताल्लुक रखते थे। इस बारे में प्राधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि अज्ञात हमलावरों ने क्वेटा से ताफ्तान जा रही एक बस को एक राष्ट्रीय राजमार्ग पर रोका था और बंदूक का डर दिखाकर नौ पुरुषों का अपहरण किया तथा बाद में उनकी हत्या कर दी।
 
अधिकारियों ने बताया, "बाद में इन नौ पुरुषों के शव नजदीकी पर्वतीय इलाके में एक पुल के समीप मिले और उनके शरीर पर गोलियों के निशान पाए गए।" उन्होंने बताया, "यह बस क्वेटा से ताफ्तान जा रही थी तभी सशस्त्र हमलावरों ने बस रुकवाई और यात्रियों की पहचान करने के बाद नौ पुरुषों को अगवा करके पर्वतीय इलाकों में ले गए।"

घटना में मारे गए लोग पंजाब प्रांत में वजीराबाद, मंडी बहुद्दीन और गुजरांवाला के रहने वाले थे। एक अन्य घटना में इसी राजमार्ग पर एक कार पर गोलीबारी की गयी जिसमें दो यात्रियों की मौत हो गयी तथा दो अन्य घायल हो गए। इन हमलों की निंदा करते हुए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने प्राधिकारियों से घटना की एक रिपोर्ट मांगी है।

पाकिस्तानी पीएम ने लोगों की मौत पर शोक भी जताया और कहा कि आतंकवादियों को सजा दिलायी जाएगी। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री मीर सरफराज बुगती ने कहा कि नोश्की राजमार्ग पर 11 लोगों की हत्या में शामिल आतंकवादियों को बख्शा नहीं जाएगा और उन्हें जल्द ही पकड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि इन आतंकवादियों का उद्देश्य बलूचिस्तान की शांति भंग करना है। गृह मंत्री मोहसिन नकवी ने भी घटना की निंदा करते हुए कहा कि सरकार इस मुश्किल वक्त में मृतक के परिवारों के साथ है। अभी तक किसी भी प्रतिबंधित संगठन ने इन हत्याओं की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन इस साल हाल के हफ्तों में प्रतिबंधित संगठनों और आतंकवादियों द्वारा आतंकी हमलों की घटनाओं में वृद्धि हुई है।