Gulalai Ismail saved herself from pakistan and reached america - महिलाओं के हक के लिए लड़ने वाली कार्यकर्ता गुलालाई पाक से जान बचाकर अमेरिका पहुंचीं DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाओं के हक के लिए लड़ने वाली कार्यकर्ता गुलालाई पाक से जान बचाकर अमेरिका पहुंचीं

इमरान सरकार ने देशद्रोह का आरोप लगाया, कट्टरपंथियों के भी निशाने पर रहीं। पाक में महिला अधिकारों की आवाज उठाने वाली कार्यकर्ता गुलालाई इस्माइल जान बचाकर अमेरिका चली गई हैं। वह कई माह से लापता थीं, उनके अमेरिका में होने का खुलासा अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने किया है।

गौरतलब है कि इमरान सरकार, सेना और रूढ़िवादी विचारों के खिलाफ आवाज उठाने के कारण उन पर देशद्रोह का आरोप लगा दिया गया था। असल में इस्माइल ने पाक सैन्य बलों द्वारा यौन शोषण की घटनाओं को उजागर करने की कोशिश की थी। तब पश्तून तहफ्फुज आंदोलन (पीटीएम) की कार्यकर्ता गुलालाई इस्माइल पर आतंकवाद निरोधी कानूनों के तहत देशद्रोह का आरोप लगाया गया।

27 मई को राज्य विरोधी भाषणों के मामले में इमरान सरकार ने इस्माइल को ब्लैकलिस्ट भी कर दिया। न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, वह पिछले माह किसी तरह अमेरिका के ब्रुकलिन में बहन के पास पहुंचीं। उन्होंने अमेरिका में राजनीतिक शरण के लिए भी आवेदन किया है। वहीं, न्यूयॉर्क के डेमोक्रेट सांसद चार्ल्स शूमर ने कहा कि उनकी शरण का समर्थन किया है। इसी सप्ताह संयुक्त राष्ट्र की आम सभा होनी है, जिसमें इमरान खान कश्मीर मुद्दा उठाने जा रहे हैं। ऐसे में 32 वर्षीय गुलालाई इस्माइल पर उनके विचारों के कारण किए गए अत्याचार का मामला पाकिस्तान की असलियत ही दुनिया के सामने बेनकाब करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gulalai Ismail saved herself from pakistan and reached america