DA Image
15 जुलाई, 2020|3:29|IST

अगली स्टोरी

जो बाइडेन ने जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या पर जताया अफसोस, कहा- यह अमेरिका में नस्लवाद के खुले घाव को दिखाता है

a protester holds a sign with an image of george floyd during protests in minneapolis   ap photo

जो बाइडेन ने मिन्नेसोटा में एक अश्वेत व्यक्ति की पुलिस के हाथों हत्या पर अपनी प्रतिक्रिया में देश में जड़ें जमा चुके नस्लवाद के 'खुले घाव' पर शुक्रवार (29 मई) को अफसोस प्रकट किया। उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बिल्कुल भिन्न रुख अपनाया जिन्होंने कहा है कि प्रशासन जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद होने वाले प्रदर्शन पर बिल्कुल सख्ती कर सकता है।

डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार माने जा रहे बाइडेन ने डेलावेयर के विल्मिंगटन में अपने घर से प्रसारित भाषण में कहा, ''इस देश का मूल पाप आज भी हमारे राष्ट्र पर दाग है।" उन्होंने राष्ट्रपति पद के लिए अपनी कोशिश की पिछले साल घोषणा करते हुए कहा था, ''असहज करने वाली सच्चाइयों पर कड़ी नजर डालने का यह वक्त है।" उन्होंने गहराई तक विभाजित देश को एकजुट रखने के अपने रुख की चर्चा करते हुए ऐसा कहा था।

जॉर्ज फ्लॉयड मर्डर: अमेरिका में हिंसा के बाद नेशनल गार्ड तैनात, पुलिस ऑफिसर पर हत्या का आरोप

उन्होंने वर्जीनिया के शेर्लोट्सविले में श्वेतों की सर्वोच्चता को लेकर हुई रैली के प्रति ट्रंप के जवाब को अमेरिकी लोगों एवं मूल्यों के प्रति अनुपयुक्त करार दिया। नस्ली अशांति की एक और लहर की ओर बढ़ रहे देश में बाइडेन के अभियान के मूल तत्व की परख हो रही है। ट्रंप का मुकाबला करने के लिए बाइडेन अपनी सहानुभूति सामने रख रहे हैं। ट्रंप अक्सर संकट के समय निजी स्तर पर भावनात्मक रूप से जुड़़ने का प्रयास करते हैं।

बाइडेन ने कहा कि उन्होंने फ्लोड के परिवार से मुलाकात की है और इंसाफ की मांग की है। उन्होंने एक ऐसे पुलिस सुधार का आह्वान किया जिसमें सभी पुलिसकर्मी उच्च मानदंड पर खरा उतरें और यहां कई वाकई ऐसे हैं भी। वैसे ट्रंप ने फ्लोउ की मौत शुरू में पुलिस कार्रवाई की निंदा की थी, लेकिन बाद में उन्होंने यह ट्वीट कर अशांति बढ़ा दी कि प्रदर्शनकारियों पर हिंसक पुलिस कार्रवाई हो सकती है।

क्या है मामला
मिनीपोलिस में इस सप्ताह तब प्रदर्शन भड़क उठे जब एक वीडियो में पुलिस अधिकारी को घुटने से फ्लॉयड की गर्दन दबाते हुए देखा गया। फ्लॉयड की बाद में चोटों के कारण मौत हो गई। श्वेत अधिकारी डेरेक चाउविन को गिरफ्तार कर लिया गया तथा उस पर शुक्रवार (29 मई) को थर्ड डिग्री हत्या और मानव वध का आरोप लगाया गया। अश्वेत फ्लॉयड को एक दुकान में नकली बिल का इस्तेमाल करने के संदेह में गिरफ्तार किया गया था। चाउविन के साथ ही उन तीन अन्य अधिकारियों को भी बर्खास्त कर दिया गया जो घटनास्थल पर मौजूद थे। हत्या का दोषी पाए जाने पर चाउविन को 12 साल से अधिक जेल की सजा भुगतनी पड़ सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:George Floyd Murder Joe Biden speaks of racial open wound