ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशगणेश रेस्तरां, योग स्टूडियो... जी7 समिट के वैन्यू का भारत से है खास कनेक्शन, जानिए क्यों?

गणेश रेस्तरां, योग स्टूडियो... जी7 समिट के वैन्यू का भारत से है खास कनेक्शन, जानिए क्यों?

रेस्तरां का नाम भगवान गणेश के नाम पर भी रखा गया है। उन्होंने कहा कि वहां कई योग और कल्याण केंद्रों में भारतीय नाम हैं, जिनमें आनंद स्पा रेस्तरां, जीवमुक्ति योग स्टूडियो और शांतिगिरी स्पा शामिल हैं।

गणेश रेस्तरां, योग स्टूडियो... जी7 समिट के वैन्यू का भारत से है खास कनेक्शन, जानिए क्यों?
Amit Kumarएजेंसियां,श्लोस एल्माउMon, 27 Jun 2022 09:39 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

जर्मनी में चल रहे जी7 शिखर सम्मेलन के आयोजन स्थल श्लोस एल्माउ का भारत से बेहद खास कनेक्शन सामने आया है। जी7 कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका का अंतर-सरकारी राजनीतिक समूह है। इसे दुनिया का सबसे अमीर देशों का ग्रुप भी कहा जाता है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि श्लोस एल्माउ पर भारतीय प्रभाव का श्रेय इसके मालिक डाइटमार मुलर को दिया जाता है, जो अपनी युवावस्था में भारत में रहते थे और धर्मार्थ गतिविधियों में शामिल थे। उन्होंने सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में भी निवेश किया था।

अधिकारियों ने बताया कि एक रेस्तरां का नाम भगवान गणेश के नाम पर भी रखा गया है। उन्होंने कहा कि वहां कई योग और कल्याण केंद्रों में भारतीय नाम हैं, जिनमें आनंद स्पा रेस्तरां, जीवमुक्ति योग स्टूडियो और शांतिगिरी स्पा शामिल हैं। उन्होंने कहा कि मुलर ने भारत के साथ अपने गहरे संबंधों के बारे में बात करते हुए कहा कि वहां ‘‘व्यक्तिगत स्वतंत्रता बहुत स्पष्ट है।’’

जस्टिन ट्रूडो से बात कर रहे थे पीएम मोदी, अचानक चलकर आए बाइडन ने रख दिया कंधे पर हाथ, देखें फिर क्या हुआ

यहां के होटल का निर्माण 1914 और 1916 के बीच बिल्डर जोहान्स मुलर द्वारा किया गया था। जिनका इस पर बड़ा प्रभाव पड़ा था। होटल की मुख्य संरचना, हिडवे में 115 कमरे और सुइट शामिल हैं। श्लोस एल्माउ में पूरे वर्ष कई संगीत समारोहों का आयोजन किया जाता है और जर्मनी तथा अन्य यूरोपीय देशों के भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रशंसक भारतीय कलाकारों के संगीत का आनंद लेने के लिए श्लोस एल्माउ जाते हैं। 

epaper