DA Image
17 अक्तूबर, 2020|4:11|IST

अगली स्टोरी

फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने वाले शिक्षक का रेता गला, लगाए अल्लाह हू अकबर के नारे

police officers secure the area near the scene of a deadly attack in the paris suburb of conflans-sa

फ्रांस में एक मिडिल स्कूल के टीचर की स्कूल के पास ही गला रेतकर हत्या कर दी गई। उस टीचर ने इस महीने की शुरुआत में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाया था। फ्रांस के अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि ऐसा माना जा रहा कि उस युवक ने उसे पैगंबर का अपमान मान लिया था। अभियोजन अधिकारी के कार्यालय ने कहा कि इस मामले की आतंकवादी नजरिए से जांच शुरू कर दी गई है। यह जघन्य वारदात एरागनी नगर में हुई है।

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि चाकू और एक एयरसॉफ्ट बंदूक से लैस संदिग्ध को पुलिस ने गोली से उड़ाया। हत्यारे ने पहले अल्लाह हू अकबर के नारे लगाए और फिर शिक्षक का गला रेत दिया।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने कहा- "आज हमारे एक नागरिक इसलिए मारे गए क्योंकि वह पढ़ा रहे थे, वह अभिव्यक्ति की आजादी के बारे में पढ़ा रहे थे।" मैक्रों ने कहा, "हमारे हमवतन पर बड़े पैमाने पर हमला किया गया, क्या वह एक इस्लामी आतंकवादी हमले का शिकार हुआ।" "वे नहीं जीतेंगे। हम कार्रवाई करेंगे। दृढ़ता से और जल्दी से। आप मेरे दृढ़ संकल्प पर भरोसा कर सकते हैं।"

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, राजधानी पेरिस के एक स्कूल में टीचर सैमुअल ने बच्चों को अभिव्यक्ति की आजादी के बारे में पढ़ाते हुए पैगंबर का कार्टून दिखाया था। इससे हमलावर बेहद नाराज था। वह तेज धारदार चाकू लेकर पहुंचा और अल्लाह हू अकबर के नारे लगाते हुए शिक्षक का गला रेत दिया।

इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन हमलावर ने सरेंडर करने की बजाय पुलिस को उल्टा डराने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस की जवाब कार्रवाई में वह व्यक्ति मारा गया।

पुलिस ने हमलावर की पहचान तो नहीं बताई लेकिन इतना जरूर बताया कि वह 18 वर्षीय संदिग्ध इस्लामिक आतंकी था, जो मॉस्को में पैदा हुआ था। पुलिस का कहना है कि आरोपी की बच्ची भी उसी स्कूल में पढ़ती थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:France launches terrorism probe after teacher killed in knife attack