ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशपत्नी और जुड़वा बच्चों को मारकर पूर्व मेटा इंजीनियर ने की खुदकुशी, US में भारतीय परिवार मर्डर केस में खुलासा

पत्नी और जुड़वा बच्चों को मारकर पूर्व मेटा इंजीनियर ने की खुदकुशी, US में भारतीय परिवार मर्डर केस में खुलासा

Indian-American Family Death: दस्तावेजों से पता चला है कि आनंद सॉफ्टवेयर इंजीनियर था, जो गूगल और मेटा का पूर्व कर्मचारी रह चुका है, जबकि उसकी पत्नी जिलो नामक कंपनी में डेटा साइंस मैनेजर थी।

पत्नी और जुड़वा बच्चों को मारकर पूर्व मेटा इंजीनियर ने की खुदकुशी, US में भारतीय परिवार मर्डर केस में खुलासा
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 15 Feb 2024 09:14 AM
ऐप पर पढ़ें

अमेरिकी राज्य कैलिफोर्निया के सैन मेटो में मंगलवार को अपने ही 17 करोड़ के आलीशन बंगले में मृत पाए गए एक भारतीय परिवार के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, 37 वर्षीय आनंद सुजीत हेनरी ने अपनी 38 वर्षीय पत्नी एलिस और  4 वर्षीय जुड़वां बेटों, नूह और नीथन को मारने के बाद खुदकुशी कर ली थी। दोनों बच्चों की लाश बेडरूम में मिली थी, जबकि इस दंपत्ति की लाश बाथरूम में मिली थी। दंपत्ति की लाश के करीब ही एक पिस्टल मिला था।

तभी से पुलिस इस मामले की जांच सुसाइड और मर्डर दोनों एंगल से कर रही थी। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इस दंपत्ति के खून से लथपथ शरीर पर 9एमएम पिस्टल के गोलियों को निशान थे। लोडेड पिस्टल बाथरूम में ही गिरा था। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आनंद ने पहले बच्चों को मारा फिर पत्नी को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। यह भारतीय-अमेरिकी परिवार मूलत: केरल का निवासी था।

दस्तावेजों से पता चला है कि आनंद सॉफ्टवेयर इंजीनियर था, जो गूगल और मेटा का पूर्व कर्मचारी रह चुका है, जबकि उसकी पत्नी जिलो नामक कंपनी में डेटा साइंस मैनेजर थी। इस दंपत्ति ने 2016 में तलाक की अर्जी कोर्ट में दायर की थी लेकिन फिर उसे नतीजे तक नहीं पहुंचा सके थे। 2020 में ही इस दंपत्ति ने करीब 17 करोड़ रुपये में ये आलीशान बंगला खरीदा था।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जुड़वां बच्चों को दूसरे तरीके से मारा गया है। NBC के मुताबिक, पुलिस को शक है कि बच्चों को दवाई की ओवरडोज देकर मारा गया हो सकता है क्योंकि उनके शरीर पर किसी तरह के निशान नहीं मिले हैं। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। मंगलवार को पुलिस तब आनंद के घर पहुंची थी, जब उनके एक पारिवारिक मित्र ने फोन कर मदद मांगी थी। उसके मुताबिक आनंद कोई फोन कॉल का जवाब नहीं दे रहा था, इससे उस पारिवारिक मित्र को अनहोनी का शक हुआ था।

जब पुलिस वहां पहुंची तो घर अंदर से बंद था। घर के चारों तरफ छानबीन करने के बाद पुलिस को जबरन एंट्री के कोई सुराग नहीं मिले थे। हालांकि, घर की एक खिड़की खुली मिली थी, जिससे पुलिस घर के अंदर घुस सकी थी। घर के अंदर पुलिस ने दंपत्ति की लाश बाथरूम से बरामद की थी। पुलिस मर्डर और सुसाइड के एंगल से इस मामले की जांच कर रही थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें