ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशपहले बाप, फिर बेटे और चाचा ने बारी-बारी से किया रेप; हमास की दरिंदगी का एक और कबूलनामा

पहले बाप, फिर बेटे और चाचा ने बारी-बारी से किया रेप; हमास की दरिंदगी का एक और कबूलनामा

मार्च में इजरायल रक्षा बलों ने जमाल को उसके बेटे अब्दुल्ला के साथ पकड़ा था। पूछताछ में अपने कृत्य का ब्यौरा देते हुए जमाल ने कहा कि उसे एक महिला मिली जो एक घर में चिल्ला रही थी और रो रही थी।

पहले बाप, फिर बेटे और चाचा ने बारी-बारी से किया रेप; हमास की दरिंदगी का एक और कबूलनामा
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,तेल अवीवFri, 24 May 2024 04:06 PM
ऐप पर पढ़ें

पिछले साल 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमास के हमले से जुड़े कई चौंकाने वाले खुलासे लगभग हर रोज हो रहे हैं। ताजा खुलासा एक फिलिस्तीनी बाप-बेटे का कबूलनामा है। दरअसल हमले के दौरान एक महिला के साथ बलात्कार और हत्या करने की बात कबूल करने वाले पिता-पुत्र की जोड़ी से इजरायली सेना की पूछताछ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

वीडियो में 47 वर्षीय जमाल हुसैन अहमद रादी और उसका नाबालिग बेटा अब्दुल्ला दिख रहा है जिससे इजरायली अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं। पूछताछ के दौरान बाप-बेटा बताते हैं कि कैसे उन्होंने 7 अक्टूबर को इजरायली शहरों पर हमले के दौरान एक महिला की हत्या करने से पहले उसके साथ बारी-बारी से बलात्कार किया।

इस साल मार्च में इजरायल रक्षा बलों (आईडीएफ) ने जमाल को उसके बेटे अब्दुल्ला के साथ पकड़ा था। पूछताछ में अपने भयानक कृत्य का ब्यौरा देते हुए जमाल ने कहा कि उसे एक महिला मिली जो एक घर में "चिल्ला रही थी" और "रो रही थी"। उसने कथित तौर पर अपने कबूलनामे में कहा, "मुझे जो करना था मैंने वो किया... मैंने उसके साथ बलात्कार किया... मैंने उसे अपनी बंदूक की नोक पर कपड़े उतारने की धमकी दी। मुझे याद है कि उसने जींस शॉर्ट्स पहन रखी थी, बस।" उसने कहा कि उसे नहीं पता कि रेप के बाद महिला के साथ क्या हुआ। 

हालांकि, जमाल के 18 वर्षीय बेटे ने अधिकारियों को बताया कि उसके पिता ने महिला के साथ बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। उसने अपने कबूलनामे वाले वीडियो में कहा, "मेरे पिता ने उसके साथ बलात्कार किया, फिर मैंने किया और फिर मेरे चचेरे भाई ने किया और फिर हम चले गए लेकिन मेरे पिता ने बलात्कार करने के बाद महिला की हत्या कर दी थी।"

जमाल ने यह भी कहा कि जिस किसी भी घर में उन्हें कोई मिला, उन्होंने "या तो उन्हें मार डाला या उनका अपहरण कर लिया"। इजरायल का दावा है कि 7 अक्टूबर के हमले में लगभग 1,200 लोग मारे गए और 250 से अधिक लोगों का अपहरण कर लिया गया। इसके बाद गाजा में युद्ध शुरू हुआ। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, हमास समूह को खत्म करने के लिए इजरायल की जवाबी कार्रवाई में गाजा में 35,000 से अधिक मौतें हुई हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में, इजरायल ने हमास द्वारा किडनैप की गई पांच पायजामा पहने महिला सैनिकों की फुटेज जारी की थी।

 

इस बीच इजरायल की सेना ने शुक्रवार को कहा कि सात अक्टूबर को मारे गए तीन और बंधकों के शव रात को गाजा से बरामद किए गए। सेना ने बताया कि हनान याब्लोंका, मिशेल निसेनबॉम और ओरियन हर्नांदेज के शव मिल गए हैं और उनके परिवारों को सूचित कर दिया गया है। सेना के मुताबिक हमास द्वारा इजरायल पर हमले की शुरुआत वाले दिन मेफालिज्म चौराहे पर एक हमले में तीनों मारे गए थे और उनके शव गाजा ले जाए गए थे। सेना ने करीब एक हफ्ते पहले ही कहा था कि उसे सात अक्टूबर को मारे गए तीन अन्य इजरायली बंधकों के शव मिले हैं। इजराइल का दावा है कि गाजा में अब भी करीब 100 लोगों को बंधक बनाकर रखा गया है। उसने 30 और बंधकों के मारे जाने का दावा भी किया है।