ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशकैपिटल हिल दंगाइयों के खिलाफ FBI ने कसा शिकंजा, 160 से अधिक मामलों में जांच शुरू

कैपिटल हिल दंगाइयों के खिलाफ FBI ने कसा शिकंजा, 160 से अधिक मामलों में जांच शुरू

अमेरिका में एफबीआई ने कैपिटल हिल में छह जनवरी को दंगा करने वालों के खिलाफ 160 से अधिक मामलों में जांच शुरू की और कहा कि यह महज़ शुरुआत है। 'फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन' (एफबीआई) वॉशिंगटन के...

कैपिटल हिल दंगाइयों के खिलाफ FBI ने कसा शिकंजा, 160 से अधिक मामलों में जांच शुरू
भाषा,वॉशिंगटनWed, 13 Jan 2021 04:46 PM
ऐप पर पढ़ें

अमेरिका में एफबीआई ने कैपिटल हिल में छह जनवरी को दंगा करने वालों के खिलाफ 160 से अधिक मामलों में जांच शुरू की और कहा कि यह महज़ शुरुआत है। 'फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन' (एफबीआई) वॉशिंगटन के फील्ड ऑफिस असिस्टेंट डायरेक्टर इंचार्ज स्टीवन एम. डी'अनटूनो ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि एजेंसी पिछले सप्ताह कैपिटल (संसद भवन) पर हमला करने वाले लोगों को गिरफ्तार करने और उनके खिलाफ आरोप तय करने के लिए अमेरिका के अटॉर्नी कार्यालय एवं अपने कानून प्रवर्तन साथियों के साथ मिलकर काम कर रही है।

उन्होंने कहा, ''छह दिनों में हमने 160 से अधिक मामलों की फाइल खोली हैं और यह महज़ शुरुआत है।" उन्होंने कहा कि एफबीआई को 'डिजिटल मीडिया' की एक लाख से अधिक सामग्रियां मिली हैं, जो कैपिटल पर हुए हमले से जुड़ी हैं। डी'अनटूनो ने कहा कि एजेंसी एकैपिटल पर हमला करने वाले एक-एक व्यक्ति तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा, ''लेकिन हम ऐसा करें, उससे पहले आपके पास खुद सामने आने का मौका है, जैसा कि बुधवार को कुछ लोगों ने किया है।"

गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव में अपनी हार स्वीकार नहीं की है और वह तीन नवम्बर को हुए चुनाव में धोखाधड़ी के बेबुनियाद दावे लगातार करते रहे हैं। उनके इन दावों के बीच ही, कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद भवन) में ट्रंप के समर्थकों ने धावा बोला था और हिंसा की थी, जिसमें कैपिटल पुलिस के एक अधिकारी तथा चार अन्य लोगों की मौत हो गई थी।

यूट्यूब ने कम से कम एक हफ्ते के लिए ट्रम्प के चैनल को निलंबित किया
इस बीच, यूट्यूब ने हिंसा की आशंकाओं को लेकर जारी चिंताओं के मद्देनजर कम से कम एक सप्ताह के लिए निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का यूट्यूब चैनल निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही वह ट्रम्प की ऑनलाइन गतिविधियों को निलंबित करने वाले सोशल मीडिया मंचों में शामित हो गई है। यूट्यूब ने एक ट्वीट में कहा कि उसने नई सामग्री अपलोड होने के बाद ट्रम्प के चैनल को निलंबित कर दिया, जिसने उसकी नीतियों का उल्लंघन किया है। बयान में यह स्पष्ट नहीं किया गया कि कौन से वीडियो पर सवाल खड़ा किया गया है या उसने किस तरह से उसकी नीतियों का उल्लंघन किया है।