ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशएक्सपर्ट का दावा- पाकिस्तान के खिलाफ साजिश रच रहे इमरान खान, कहा- US को किया नाराज, रूस से भी कुछ नहीं मिला

एक्सपर्ट का दावा- पाकिस्तान के खिलाफ साजिश रच रहे इमरान खान, कहा- US को किया नाराज, रूस से भी कुछ नहीं मिला

इमरान खान के पाकिस्तान को मुश्किल की स्थिति में डाल दिया है। इसका कारण है अमेरिका के साथ तनावपूर्ण संबंध। हाल ही में मास्को की यात्रा के बावजूद पाकिस्तान को रूस से कुछ नहीं मिला।

एक्सपर्ट का दावा- पाकिस्तान के खिलाफ साजिश रच रहे इमरान खान, कहा- US को किया नाराज, रूस से भी कुछ नहीं मिला
एएनआई,लंदन।Sat, 02 Apr 2022 12:29 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

इमरान खान खुद तो सियासी संकटों का सामना कर ही रहे हैं। उन्होंने अपने देश यानी पाकिस्तान के खिलाफ भी साजिश रच दी है। ऐसा विशेषज्ञों का मानना है। उनका कहना है कि PM इमरान खान के कार्यों ने आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को मुश्किल की स्थिति में डाल दिया है। इसका कारण है अमेरिका के साथ तनावपूर्ण संबंध। हाल ही में मास्को की यात्रा के बावजूद प्रधानमंत्री रूस का भरोसा जितने में विफल रहे। 

शनिवार को लंदन में एक कार्यक्रम के दौरान कश्मीरी नेता शब्बीर चौधरी के साथ बातचीत में भारत और पाकिस्तान की भू-राजनीतिक स्थिति के एक विशेषज्ञ ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के असली चेहरे पर प्रकाश डाला।

चौधरी ने कहा कि विशेषज्ञ का कहना है कि, "इमरान खान पाकिस्तान के खिलाफ साजिश कर रहे हैं। इमरान खान ने अमेरिका को कई तरह से चुनौती दी है। अमेरिका ने अफगानिस्तान युद्ध के दौरान सैन्य ठिकानों के लिए कभी नहीं कहा था, लेकिन उन्होंने (इमरान खान) इसे उकसाया। बाद में वह बाइडेन के एक फोन कॉल के लिए तरस गए। इसका बाद रूस में उनके द्वारा की गई टिप्पणी ने भी अमेरिका को नाराज किया। विशेष रूप से ऐसे समय में जब रूस यूक्रेन पर हमला करने के लिए तैयार था। अब वह किसी पत्र के बारे में बात कर रहे हैं।"

पाकिस्तान के साथ भारत के रुख की तुलना करते हुए भू-राजनीतिक विशेषज्ञ ने दावा किया कि दिल्ली रूस से रियायती दरों पर तेल प्राप्त करने में कामयाब रही, जबकि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री मास्को की यात्रा के बावजूद देश की भलाई के लिए कुछ नहीं कर सके।

उन्होंने कहा, ''भारत रूस के साथ अपने संबंधों का लुत्फ उठा रहा है, क्योंकि उसे तेल पर छूट मिली थी। लेकिन यह सोचने की बात है कि रूस यात्रा से इमरान खान को क्या मिला है।''
उन्होंने कहा कि इमरान खान सियासी शहीद (राजनीतिक शहीद) बनना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री इमरान खान के "मौत की धमकी" के दावे को खारिज करते हुए विशेषज्ञ ने कहा कि अमेरिका ने कोई धमकी जारी नहीं की है। इससे पहले उन्होंने कहा था कि मुझे परवाह नहीं है कि मैं मर जाऊं, लेकिन अब उन्होंने कहा कि मेरी जान को खतरा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव से पहले कहा कि उनके पास विश्वसनीय जानकारी है कि उनकी जान खतरे में है। उन्होंने कहा कि न केवल उनकी जान खतरे में है, बल्कि विदेशी हाथों में खेल रहा विपक्ष भी उनके चरित्र हनन का सहारा लेगा।