ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशइजरायल पहुंचे एलन मस्क; बोले- हत्यारों का खात्मा जरूरी, जंग के बाद गाजा को बनाने में करूंगा मदद

इजरायल पहुंचे एलन मस्क; बोले- हत्यारों का खात्मा जरूरी, जंग के बाद गाजा को बनाने में करूंगा मदद

अरबपति एलन मस्क और इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कफर अजा किबुत्ज का दौरा किया, जहां हमास के उग्रवादियों ने 7 अक्टूबर को भीषण हमला किया था, जिसके बाद युद्ध शुरू हो गया था।

इजरायल पहुंचे एलन मस्क; बोले- हत्यारों का खात्मा जरूरी, जंग के बाद गाजा को बनाने में करूंगा मदद
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,यरुशलमTue, 28 Nov 2023 12:56 AM
ऐप पर पढ़ें

अमेरिकी अरबपति एलन मस्क सीजफायर के चौथे दिन (27 नवंबर) को इजरायल पहुंचे। यहां उन्होंने इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से मुलाकात की। मस्क ने नेतन्याहू के साथ एक्स पर लाइव चैट के दौरान कहा कि हमास के खात्मे के अलावा कोई रास्ता नहीं है। उन्होंने कहा, 'हत्यारों का खात्मा जरूरी हो गया है। इस तरह का प्रोपेगेंडा बंद होना चाहिए जो लोगों को हत्यारा बनने की ट्रेनिंग देता हो। गाजा के भविष्य के लिए यह जरूरी है। मैं गाजा को दोबारा बनाने और जंग के बाद गाजा को अच्छा भविष्य देने में मदद करूंगा।'

एलन मस्क और बेंजामिन नेतन्याहू ने कफर अजा किबुत्ज का दौरा किया, जहां हमास के उग्रवादियों ने 7 अक्टूबर को भीषण हमला किया था जिसके बाद युद्ध शुरू हो गया था। नेतन्याहू के कार्यालय की ओर से जारी किए गए वीडियो के अनुसार, मस्क ने सुरक्षात्मक यूनिफॉर्म पहन रखे थे और सुरक्षाकर्मियों की टोली से घिरे हुए थे। मस्क और प्रधानमंत्री ने कुछ पीड़ितों के घरों का दौरा किया, जिसमें इजरायल और अमेरिका की दोहरी नागरिकता वाली 4 वर्षीय लड़की अबीगैल एडन का परिवार भी शामिल था, जिसे उसके माता-पिता की हत्या के बाद हमास की ओर से बंधक बना लिया गया था। गाजा में सोमवार के बाद समाप्त होने वाले संघर्ष विराम के दौरान आदान-प्रदान के नवीनतम दौर में उसे रविवार को रिहा कर दिया गया।

नरसंहार के दृश्य परेशान करने वाले: मस्क
मस्क ने बाद में नेतन्याहू के साथ एक्स स्पेसेज बातचीत में कहा, 'नरसंहार के दृश्य को देखना परेशान करने वाला था।' मस्क ने कहा कि वह उन वीडियो और तस्वीरों से परेशान हैं जो प्रधानमंत्री ने उन्हें बच्चों सहित नागरिकों की हत्याओं के बारे में दिखाईं। एलन मस्क का इजरायल के राष्ट्रपति इसहाक हर्जोग और पूर्व रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज से भी मिलने का कार्यक्रम है। सरकार के प्रवक्ता इलोन लेवी ने यह कहने से इनकार कर दिया कि क्या मस्क को आमंत्रित किया गया था। इजरायल के संचार मंत्री श्लोमो करही ने सोमवार को पोस्ट कर उस समझौते के बारे में बताया था, जो उनके मंत्रालय ने मस्क की स्टारलिंक उपग्रह इंटरनेट कंपनी के साथ किया था।

एक्स पर यहूदी विरोधी संदेशों को नहीं हटाने का आरोप
श्लोमी करही ने अधिक जानकारी साझा किए बिना पोस्ट में कहा, 'इस अहम समझौते के चलते स्टारलिंक उपग्रह यूनिट्स को केवल गाजा पट्टी सहित इजरायली संचार मंत्रालय की मंजूरी के साथ इजरायल में ऑपरेट किया जा सकता है।' पिछले साल ट्विटर को खरीदने के बाद से मस्क को प्रमुख यहूदी नागरिक अधिकार संगठन 'एंटी-डिफेमेशन लीग' और अन्य लोगों की ओर से मंच पर यहूदी विरोधी संदेशों को नहीं हटाने के लिए आरोपों का सामना करना पड़ा है। इसे लेकर सोशल मीडिया यूजर्स ने उन पर कई तरह के सवाल खड़े किए हैं। 
(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें