DA Image
24 फरवरी, 2020|4:51|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीनेट में महाभियोग की सुनवाई: डेमोक्रेट सांसदों ने कहा, ट्रंप ने खुलेआम सत्ता का गलत इस्तेमाल किया

donald trump

प्रतिनिधि सभा के मुख्य महाभियोग प्रबंधक एडम शिफ ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को पद से बर्खास्त किए जाने की अपील करते हुए कहा कि अमेरिकी नेता ने अपने हितों को देश के हित से ऊपर रखा इसलिए उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता। शिफ ने बृहस्पतिवार (23 जनवरी) को कहा, ''अमेरिकी लोगों को ऐसे राष्ट्रपति की आवश्यकता है, जिस पर वे भरोसा कर सकें कि वह उनके हित को प्राथमिकता देगा।"

उन्होंने कहा, ''आप जानते हैं कि आप इस राष्ट्रपति पर इस बात के लिए भरोसा नहीं कर सकते कि वह वही काम करेगा जो इस देश के लिए सही होगा। आप यह भरोसा कर सकते हैं कि वह उस काम को करेंगे जो डोनाल्ड ट्रंप के लिए सही होगा।" शिफ ने कहा, ''वह अब ऐसा करेंगे। उन्होंने पहले ऐसा किया है। वह आगामी कई महीनों में ऐसा करेंगे। यदि उन्हें अनुमति दी जाती है तो वह चुनाव में भी ऐसा करेंगे। इसी लिए, यदि आप उन्हें दोषी पाते हैं, तो उन्हें हटाया जाना चाहिए।"

उन्होंने कहा, ''क्योंकि सही बात मायने रखती है और सच्चाई मायने रखती है। अन्यथा हम सभी का नुकसान होगा।" शिफ की अभियोजन टीम ने दलीलें पेश करते हुए विस्तार से यह बताने की कोशिश की कि ट्रंप ने राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए किस प्रकार खुलेआम और खतरनाक तरीके से अपनी ताकत का दुरुपयोग किया।

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की सुनवाई के दूसरे दिन सदन के अभियोग प्रबंधकों ने दलीलें पेश करते हुए रिपब्लिकन पार्टी के इस दावे को खारिज करने की कोशिश की कि ट्रम्प ने कुछ गलत नहीं किया। न्यायाधीशों के रूप में बैठे 100 सीनेटरों के बीच अभियोजकों ने पुराने वीडियो दिखाए जिनमें राष्ट्रपति के दो निकट बचावकर्ता कह रहे हैं कि सत्ता का दुरुपयोग निश्चित ही ऐसा अपराध है जिसके खिलाफ महाभियोग चलाया जा सकता है। इन वीडियो से व्हाइट हाउस के इस दावे की हवा निकल गई कि कोई विशेष अपराध करने पर ही अमेरिकी संविधान के तहत राष्ट्रपति को हटाया जा सकता है।

महाभियोग प्रबंधकों में से एक और प्रतिनिधि सभा की न्यायिक समिति के अध्यक्ष जेरी नाडलर ने कहा, ''राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपने निजी हित की खातिर किसी अन्य देश से हमारे चुनाव में हस्तक्षेप करने के लिए कह कर अपने कार्यालय की शक्तियों का दुरुपयोग किया है।" उन्होंने कहा, ''राष्ट्रपति ने बार-बार, खुलेआम अपनी शपथ का उल्लंघन किया... राष्ट्रपति का आचरण गलत है। यह अवैध और खतरनाक है।"

सीनेट में अभियोजन पक्ष शुक्रवार (24 जनवरी) तक और ट्रंप का बचाव पक्ष शनिवार (25 जनवरी) से मंगलवार (28 जनवरी) तक अपना पक्ष रखेगा। डेमोक्रिटक पार्टी के नेता इस बात से वाकिफ हैं कि ट्रंप को व्हाइट हाउस से बाहर निकालने में उनके सफल होने की संभावना कम है क्योंकि 100 सदस्यीय सीनेट में 53 रिपब्लिकन और 47 डेमोक्रेट हैं।

ट्रंप के खिलाफ अपने पद का दुरुपयोग करते हुए यूक्रेन पर डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडेन के बेटे हंटर बाइडेन के खिलाफ जांच के लिए दबाव बनाने और कांग्रेस की जांच को बाधित करने के आरोप लगे हैं। महाभियोग सुनवाई की अध्यक्षता उच्चतम न्यायालय के चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Donald Trump should be removed impeachment trial in Senate