DA Image
25 नवंबर, 2020|7:45|IST

अगली स्टोरी

डोकलाम विवाद: सिक्किम में आमने-सामने भारत और चीन लेकिन चिंता में पाकिस्तान

Dokalm Standoff between India and China

पाकिस्तान ने सिक्किम सेक्टर के डोकलाम क्षेत्र में भारतीय एवं चीनी बलों के बीच करीब दो महीने से जारी गतिरोध पर चिंता जताते हुए कहा है कि क्षेत्रीय शांति बनाए रखना सभी देशों की जिम्मेदारी है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने कहा कि पाकिस्तान ने सिक्किम सीमा में भारतीय उल्लंघन पर ध्यान दिया  है और क्षेत्र में बढ़ते भारत की जिद और उसके कब्जे की कोशिशों को लेकर चिंतित है। जकारिया ने कहा कि भारत का यह बर्ताव क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता को खतरे में डाल रहा है। 

जकारिया ने कहा कि यह क्षेत्र के सभी देशों के हित में है कि वे क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता के लिए काम करें। जकारिया ने कहा कि क्षेत्रीय शांति बनाए रखना सभी देशों की जिम्मेदारी है। पाकिस्तान हमेशा से ही क्षेत्र की शांति और समृद्धि चाहता है। जकारिया के मुताबिक ऐसा देखा गया है कि भारत में बीजेपी सरकार के सत्ता में आने के बाद से भारत और पाकिस्तान के संबंधों में गिरावट आई है। जकारिया ने कहा कि भारत को यह समझने की जरूरत है कि सहयोग के जरिए क्षेत्रों के लोगों की बेहतरी हो सकती है। ऐसा करने के लिए हमें सभी विवादपूर्ण मामलों, विशेष रूप से जम्मू कश्मीर के मामले को सुलझाने की जरूरत है। जकारिया ने कहा कि भारत इस संबंध में सकारात्मक नहीं रहा है। 

जकारिया ने भारत पर यह भी आरोप लगाया कि सार्क के प्रति अपने देखरेख से भारत इस क्षेत्र की आर्थिक विकास को भी बाधित कर रहा है। उन्होंने कहा कि सार्क का एकमात्र मकसद इस क्षेत्र के लोगों का आर्थिक विकास करना है। जकारिया ने दावा किया कि सार्क सम्मेलन का आयोजन पाकिस्तान में ठीक समय पर होगा। 

डोकलाम विवाद:चीन ने कहा, भारत शांति चाहता है तो सेना पीछे हटाए
ड्रैगन की चालः मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी मानने से चीन ने फिर किया इनकार 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dokalm Standoff between India and China and a worry for Pakistan