DA Image
12 अगस्त, 2020|10:16|IST

अगली स्टोरी

मालदीव पर बोला चीन: नहीं चाहते भारत के साथ दूसरा 'डोकलाम'

Maldives says not bypassing India, dates for special envoy visit did not suit New Delhi

चीन ने कहा है  कि वह मालदीव में जारी राजनीतिक उथल-पुथल के समाधान के लिए भारत से संपर्क में है और बीजिंग नहीं चाहता है कि यह मामला एक और 'टकराव का मुद्दा बने।

भारत के विशेष बलों की तैनाती के लिए तैयार होने से जुड़ी खबरों के बीच चीन के आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को कहा कि बीजिंग इस बात पर कायम है कि किसी भी तरह का बाहरी हस्तक्षेप नहीं होना चाहिए। उनके मुताबिक चीन मुद्दे के समाधान के लिए भारत के संपर्क में है। 

मालदीव संकट: पीएम मोदी और ट्रंप ने की बातचीत, जताई चिंता
        
सूत्रों ने बीजिंग में बताया कि चीन नहीं चाहता है कि मालदीव एक और 'टकराव का मुद्दा बने। 

डोकलाम में भारत और चीन के बीच गतिरोध एवं संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने में बीजिंग की बाधा से हाल में द्विपक्षीय संबंध प्रभावित हुए हैं।   

मालदीव की सफाई:भारतीय नेतृत्व ने नहीं दिया समय,इसलिए नहीं आए विशेष दूत

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच आज हुई बातचीत सहित मालदीव से संबंधित कई सवालों के जवाब में कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को मालदीव की संप्रभुता और स्वतंत्रता का सम्मान करना चाहिए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Do not want Maldives to be another flashpoint in talks with India: China