DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   विदेश  ›  इजरायल में खतरनाक रूप ले रहा कोरोना, 2369 मामलों की पुष्टि, पांच की मौत

विदेशइजरायल में खतरनाक रूप ले रहा कोरोना, 2369 मामलों की पुष्टि, पांच की मौत

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Mrinal
Thu, 26 Mar 2020 07:23 AM
इजरायल में खतरनाक रूप ले रहा  कोरोना, 2369 मामलों की पुष्टि, पांच की मौत

इजरायल में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़कर 2369 हो गयी है। इजरायल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी। वक्तव्य के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 439 नए मामले सामने आए हैं। वक्तव्य के मुताबिक कोरोना से संक्रमित 39 मरीजों की हालत नाजुक बनी हुई है जबकि 64 लोग इस महामारी से पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। 

इजरायल में कोरोना से अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। इजरायल में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार की ओर से काफी कड़े कदम उठाए जा रहे हैं जिसके तहत लोगों को सख्ती से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के निदेर्श दिए गए हैं। इसके अलावा लोगों को जरूरी काम से अपने घर से केवल 100 मीटर की दूरी तक ही जाने की अनुमति है। 

भारत की बात करें तो यहां हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने 21 दिनों का लॉक डाउन कर दिया है।अध्ययन में बताया गया है कि यदि कोरोना वायरस को रोकने के लिए कोई उपाय नहीं किए गए तो 15 मई तक प्रति एक लाख आबादी में से 161 लोग कोरोना के संक्रमण का शिकार बन जाएंगे। अगर देशभर में इस दौरान यातायात प्रतिबंधित कर दिया जाए तो यह संख्या घटकर प्रति लाख आबादी पर 48 रह जाएगी। यातायात प्रतिबंध के साथ अगर लोगों को सोशल क्वारंटाइन कर दिया जाए तो भी प्रति लाख 4 लोग इस संक्रमण का शिकार होंगे। वहीं, एक सप्ताह का संपूर्ण लॉकडाउन कोरोना संक्रमण को एक व्यक्ति प्रति लाख आबादी पर ला सकता है। विशेषज्ञों की मानें तो तीन सप्ताह का लॉकडाउन कोरोना वायरस के संक्रमण को पूरी तरह निष्प्रभावी कर सकता है।

..तो ढाई महीनों में 16 लाख के पार
अध्ययन में कहा गया है कि अगर कड़े प्रतिबंध नहीं उठाए जाएंगे तो देश में कोरोना संक्रमण के मामले अभी जो कुछ सैकड़ा हैं, अगले ढाई महीनों में बढ़कर 16 लाख के पार चले जाएंगे। तब इन्हें रोकना असंभव हो जाएगा। अध्ययन में कहा गया है कि वर्तमान दर के हिसाब से 15 अप्रैल तक कोरोना संक्रमण देश में 4800 तक पहुंच जाएगा। अगले एक महीने में यानी 15 मई तक 9.15 लाख, एक जून तक 14.60 लाख और 15 जून तक 16.30 लाख को पार कर जाएगा।

कितना सटीक अध्ययन
इस अध्ययन के आंकड़े अब तक काफी सही साबित हुए हैं। अध्ययन में 17,18 और 19 मार्च के लिए भारत में 119, 126 और 133 मामलों की भविष्यवाणी की गई थी। वास्तव में इन तारीखों पर क्रमशः 142, 156 और 194 केस दर्ज किए गए थे।

 

संबंधित खबरें