DA Image
18 अक्तूबर, 2020|8:11|IST

अगली स्टोरी

नेपाल में चीनी सेना की घुसपैठ की रिपोर्ट के बीच ड्रैगन ने फेंका दोस्ती वाला जाल, शी जिनपिंग ने भेजा यह मैसेज

nepal china

चीन ने एक बार फिर नेपाल को मोहने के लिए बड़ी-बड़ी बातें की हैं, उसे विकास और मजबूत रिश्तों का सपना दिखाया है। नेपाल के संविधान दिवस के बहाने चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग और प्रधानमंत्री ली केकियांग ने नेपाली समकक्षों को मैसेज भेजा है। दूसरी तरफ आज ही मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि चीनी सेना ने नेपाली क्षेत्र में अतिक्रमण करके कई इमारतों को निर्माण कर लिया है।

नेपाली न्यूज वेबसाइट कांतिपुर के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा है कि वह नेपाल-चीन संबंधों के विकास को बहुत महत्व देते हैं और इससे विभिन्न क्षेत्रों में आपसी संबंध और व्यावहारिक सहयोग विकसित होगा। उन्होंने रविवार को संविधान दिवस के अवसर पर अपने समकक्ष बिद्यादेवी भंडारी को एक बधाई संदेश भेजकर ये बातें कहीं। 

शी ने पिछले साल उनके और राष्ट्रपति भंडारी की आपसी यात्रा को भी याद किया। उन्होंने कहा कि इस यात्रा ने मैत्रीपूर्ण रणनीतिक साझेदारी के राजनयिक संबंधों को आगे बढ़ाया। शी ने यह भी कहा कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ दोनों देशों के सहयोग ने आपसी मित्रता को और मजबूत व गहरा किया है। उन्होंने कहा, "चीन-नेपाल संबंधों के विकास पर ध्यान केंद्रित करने के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में व्यावहारिक सहयोग को और विकसित करने और दोनों देशों के लोगों को अधिक लाभ पहुंचाने की इच्छा है।''

चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग ने रविवार को अपने समकक्ष केपी शर्मा ओली को संविधान दिवस की शुभकामनाएं दीं और कहा कि नेपाल और चीन पारंपरिक रूप से मित्रवत पड़ोसी हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में दोनों पक्षों के बीच सहयोग पिछले कुछ वर्षों से लगातार बढ़ रहा है। ली ने यह भी कहा कि महामारी के साथ-साथ विभिन्न क्षेत्रों में लड़ाई में नेपाल के साथ सहयोग बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा, "चीन नेपाल के साथ विकास और समृद्धि-उन्मुख रणनीतिक सहयोग, साझेदारी को और गहरा करना चाहता है।

चीन ने नेपाल की जमीन पर किया कब्जा
इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि नेपाल के हुम्ला जिले में चीनी सेना ने जमीन पर कब्जा करके वहां 9 इमारतों का निर्माण कर लिया है। हु्म्ला जिले के नाम्खा गांव में चीन ने ना सिर्फ इमारतों का निर्माण किया, बल्कि अब वहां नेपाली नागरिकों को जाने से रोक रहा है। गांवपालिका के अध्यक्ष विष्णु बहादुर लामा सीमावर्ती क्षेत्र में घूमने गए तो वे अतिक्रमण देखकर हैरान रह गए। उन्होंने बताया कि लिमी गांव के लाप्चा क्षेत्र में चीनी सेना ने इन इमारतों का निर्माण लगभग पूरा कर लिया है। उन्होंने बताया कि चीनी सैनिकों ने सीमा के एक किलोमीटर अंदर आकर इन भवनों का निर्माण किया है। दो महीने पहले ही चीन की ओर से नेपाल के गोरखा जिले के रूई गांव पर कब्जे की खबर आई थी लेकिन नेपाल की ओली सरकार ने आंखें मूंदकर इससे इनकार कर दिया था। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:chinese president xi jinping sends message to nepal on constitution day