DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   विदेश  ›  इन लुभावने ऑफर से कोरोना टीकाकरण में सबसे आगे निकला चीन, जानें भारत-US समेत इन देशों का हाल
विदेश

इन लुभावने ऑफर से कोरोना टीकाकरण में सबसे आगे निकला चीन, जानें भारत-US समेत इन देशों का हाल

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Shankar Pandit
Sun, 20 Jun 2021 06:08 AM
इन लुभावने ऑफर से कोरोना टीकाकरण में सबसे आगे निकला चीन, जानें भारत-US समेत इन देशों का हाल

कोरोना टीकाकरण में में धीमी शुरुआत के बाद चीन सबसे आगे निकलता दिख रहा है। कुछ ही दिनों में चीन में एक अरब लोगों का टीकाकरण हो जाएगा जो दुनिया के अन्य देशों की अपेक्षा बहुत ज्यादा है। चीन में बुधवार तक 94.5 करोड़ लोगों का टीकाकरण हो चुका है जो अमेरिका के मुकाबले तीन गुना ज्यादा है। वहीं दुनिया में जितना टीकाकरण हुआ उसका 40 फीसदी अकेले चीन में हुआ है। दुनियाभर में अब तक 2.5 अरब लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। चीन में मंगलवार को दो करोड़ लोगों को टीकाकरण किया गया। अगर यही रफ्तार रही तो इस हफ्ते तक चीन में एक अरब लोगों का टीकाकरण हो जाएगा।

मई महीने में ही 50 करोड़ का टीकाकरण
चीन में टीकाकरण अभियान में एकदम से आई तेजी काफी आश्चर्यजनक है। क्योंकि यहां टीकाकरण की शुरुआत काफी धीमी रही। चीन ने 27 मार्च तक 10 लाख का टीकाकरण किया। जबकि अमेरिका ने दो सप्ताह पहले ही इतने लोगों का टीकाकरण कर चुका था। लेकिन मई में इसमें काफी तेजी देखने को मिली। चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन के मुताबिक सिर्फ मई माह में ही 50 करोड़ लोगों का टीकाकरण किया गया।

झिझक के बाद बढ़े संक्रमण ने बढ़ाया टीकाकरण
चीन में 1.4 अरब आबादी का टीकाकरण बड़ी चुनौती थी। चीन में कोरोना वायरस की सफल रोकथाम के चलते वहां के लोगों ने शुरू में टीका लगवाने में बहुत कम दिलचस्पी दिखाई। वहीं घरेलू टीकों से जुड़े सुरक्षा घोटालों के इतिहास ने भी इस झिझक में काफी योगदान दिया। लेकिन उत्तरी अनहुई और लियाओनिंग प्रांतों और दक्षिण में ग्वांगडोंग सहित कई हिस्सों में हालिया संक्रमण के प्रकोपों ने फिर अशंकाओं को हवा दी है, जिससे प्रभावित क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए भीड़ लगने लगी। इसके साथ ही चीन में सख्ती के चलते भी अनिच्छुक लोग टीकाकरण कराने को तैयार हुए।

टीके के लिए लुभावने ऑफर
चीन में बड़े शहरों और छोटे गांवों में सभी को टीका लगाने के लिए चौतरफा अभियान चलाया जा रहा है। सरकारी कर्मचारियों को लोगों को टीकाकरण के लिए मनाने के लिए उतार दिया गया है। राज्य के स्वामित्व वाली कंपनियों में कर्मचारियों से टीका लगवाने का आग्रह किया जा रहा है। साथ ही टीकाकरण साइटों लोगों को लुभाने के लिए खरीदारी वाउचर से लेकर मुफ्त किराने का सामान और आइसक्रीम तक देने का ऑफर दिया जा रहा है।

अमेरिका : 150 दिन में 30 करोड़ का टीकाकरण
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने घोषणा की कि देश में उनके कार्यभार संभालने के बाद से 150 दिन में कोरोना टीकों की 30 करोड़ खुराक लगाई गईं। बाइडन ने इसका श्रेय वैज्ञानिकों, कंपनियों, अमेरिकी लोगों और उनकी सरकार के प्रयासों को दिया। राष्ट्रपति ने कहा कि 65 प्रतिशत वयस्कों को कम से कम एक खुराक लग गई है, जिससे उम्मीद है कि इस बार गर्मियों में हालात अपेक्षाकृत सामान्य रहेंगे, कारोबार फिर से खुलेंगे और नियोक्ता भर्तियां करेंगे। राष्ट्रपति ने कहा कि पिछले साल की तुलना में अगली गर्मियों में स्थिति अलग होगी। मैं प्रार्थना करता हूं कि इस बार गर्मियां खुशियां लेकर आएं। अमेरिका में एक जून तक 30 करोड़ 50 लाख खुराक दी गई थीं। लगभग 14 करोड़ 16 लाख लोगों या अमेरिका की 42.6 प्रतिशत आबादी का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है।

तेजी के बाद धीमी पड़ी रफ्तार
अमेरिका में करीब दो सप्ताह पहले करीब 20 लाख लोगों को प्रतिदिन टीके लग रहे थे, लेकिन इस गति में अब कमी आई है, जिसके कारण 70 प्रतिशत आबादी का चार जुलाई तक कम से कम आंशिक टीकाकरण कर दिए जाने का बाइडन का लक्ष्य संकट में नजर आ रहा है। बाइडन प्रशासन का कहना है कि 70 प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य भले ही पूरा न पाए, लेकिन इसका अमेरिका के समग्र रूप से पटरी पर लौटने पर बहुत कम प्रभाव पड़ेगा।

भारत : 154 दिन में 27 करोड़ से ज्यादा लोगों को टीका लगा
टीकाकरण अभियान के 154वें दिन भारत ने एक अहम उपलब्धि हासिल की और देश में अब तक लगायी गयी खुराकों की कुल संख्या 27 करोड़ से अधिक हो गई है।

किस देश में कितनी फीसदी आबादी को लगा टीका (एक खुराक)
कनाडा 66
अमेरिका 65
ब्रिटेन 63
इजरायल 60
जर्मनी 50
सिंगापुर 50
चीन  43.21
भारत 15.7

संबंधित खबरें