China says Hong Kong protests absolutely intolerable - चीन ने हांगकांग के विरोध प्रदर्शन को बताया 'बिल्कुल असहनीय' DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन ने हांगकांग के विरोध प्रदर्शन को बताया 'बिल्कुल असहनीय'

hong kong protest

हांगकांग में हुए उग्र विरोध प्रदर्शन में चीनी प्रतिनिधि कार्यालय की दीवारों को तोड़ने और सरकार के राष्ट्रीय प्रतीक चिह्न को विरूपित किये जाने पर चीन ने सोमवार को कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये उन्हें ''बिल्कुल असहनीय" बताया। लोकतंत्र समर्थक हजारों प्रदर्शनकारियों ने रविवार रात अर्द्ध-स्वायत्त शहर में कार्यालय के बाहर सड़क पर कुछ हद तक कब्जा कर लिया और चीनी शासन के प्रति जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

हांगकांग में लोकतांत्रिक सुधारों के लिए पिछले कुछ समय से बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, जो कभी-कभी हिंसक आंदोलन का रूप ले लेता है। शहर में चीन के प्रमुख राजदूत वांग झिमिन ने संवाददाताओं से कहा, ''इससे (कृत्यों) ... सत्तर लाख हांगकांगवासी के साथ-साथ सभी चीनी लोगों की भावनाओं को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा है।

हांगकांग: सरकार के विरोध में फिर हुआ विशाल मार्च, प्रदर्शनकारियों ने चीन के दफ्तर पर फेंके अंडे
हांगकांग में रविवार (21 जुलाई) को सरकार के खिलाफ एक और विशाल मार्च हुआ। रात में इस मार्च के अंत में मास्क पहने प्रदर्शनकारियों ने चीन के स्थानीय दफ्तर पर अंडे फेंके। चीन के शासन को लेकर सालों से बढ़ते आक्रोश से पैदा हुए इस बवाल का अंत फिलहाल नजर नहीं आ रहा। पुलिस और उग्र प्रदर्शनकारियों के बीच पिछले कुछ हफ्तों में कई बार छिटपुट हिंसक झड़प हुई है और कई बार मार्च हुए हैं। इन घटनाओं को हांगकांग का हाल के वर्षों का सबसे गंभीर संकट माना जा रहा है।

इन प्रदर्शनों की शुरुआत सबसे पहले एक विवादित विधेयक को लेकर हुई। इस विधेयक के पारित हो जाने पर किसी आरोपी को चीन प्रत्यर्पित करने का मार्ग प्रशस्त हो जाता। विरोध प्रदर्शन के कारण अब इस विधेयक को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। हालांकि, विरोध प्रदर्शनों ने व्यापक रूप ले लिया है और अब लोकतांत्रिक सुधारों, सार्वभौमिक मताधिकार आदि की मांग की जा रही है।

साल 1997 में हांगकांग चीन को वापस सौंपा गया था, जिसके बाद से अभी बीजिंग की सत्ता को यहां सबसे बड़ी चुनौती मिलती दिख रही है। पुलिस को प्रदर्शन बंद कराने के लिए आंसू गैस के गोले और रबर की गोलियां दागनी पड़ रही है। पिछले सात हफ्ते से हफ्ते के अंत में रैलियां आयोजित की जाती रही हैं और आज हुई रैली भी इसी का हिस्सा है। इस रैली में सरकार विरोधी हजारों प्रदर्शनकारियों ने हिस्सा लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:China says Hong Kong protests absolutely intolerable