DA Image
हिंदी न्यूज़ › विदेश › चीन ने भारतीयों को दी वापस आने की अनुमति, विशेष विमान से 150 लोग गुआंगजौ लौटेंगे
विदेश

चीन ने भारतीयों को दी वापस आने की अनुमति, विशेष विमान से 150 लोग गुआंगजौ लौटेंगे

सुतीर्थो पटरानोबिस, एचटी,बीजिंग।Published By: Himanshu Jha
Wed, 05 Aug 2020 10:47 PM
चीन ने भारतीयों को दी वापस आने की अनुमति, विशेष विमान से 150 लोग गुआंगजौ लौटेंगे

एयर इंडिया के विशेष विमान से 150 भारतीय नई दिल्ली से गुरुवार को चीन के गुआंगजौ लौटेंगे। इनमें राजनयिक, उनका परिवार, बैंकों में काम करने वाले कर्मचारी और कुछ आम लोग शामिल हैं। भारतीयों की वापसी के लिए बीजिंग से आखिरी अनुमति भारतीय और चीनी अधिकारियों के बीच गहन चर्चाओं के दौर के बाद दी गई। गौरतलब है कि 29 जून को भारत से चीन के लिए उड़े आखिरी विशेष विमान में भारतीयों को आने की अनुमति नहीं दी गई थी।

चीनी अधिकारियों ने स्पष्ट कर दिया है कि इस बार गुरुवार की उड़ान में उन्हीं भारतीयों को वापस आने की अनुमति दी जाएगी, जिन्होंने पांच दिनों के अंदर अपना सीरम एंटीबॉडी और न्यूक्लिक टेस्ट करवाया होगा। इसके अलावा नई दिल्ली में स्थित चीनी दूतावास इन लोगों के स्वास्थ्य की जांच करेगा। गुआंगजौ पहुंचने पर यात्रियों का एक बार फिर से न्यूक्लिक टेस्ट किया जाएगा। अगर वे पॉजिटिव पाए गए तो उन्हें उसी विमान से वापस नई दिल्ली भेज दिया जाएगा।

आमंत्रण पत्र दिखाना होगा: चीन में वापसी को इच्छुक निजी कंपनियों में काम करने वाले भारतीयों को एक और अनिवार्य आवश्यकता पूरी करनी पड़ेगी। उन्हें चीन के उन जगहों के स्थानीय विदेश कार्यालयों से हस्ताक्षर किया हुआ आमंत्रण पत्र दिखाना होगा, जहां वे काम करते हैं। गुरुवार की सुबह गुआंगजौ से नई दिल्ली आने वाले विशेष विमान से ही भारतीयों को वापस चीन भेजा जाएगा। यह उड़ान वंदे भारत मिशन के तरह चीन में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए पांचवीं उड़ान होगी। चीन लौटने वाले ज्यादातर भारतीय छात्र हैं और वे चीन में मेडिसिन की पढ़ाई कर रहे हैं।

एक महीने से बाधित था आवागमन: चीनी सरकार ने गुरुवार को वंदे भारत मिशन के विमान को भारतीयों को वापस लाने की अनुमति दे दी। इससे पहले करीब एक महीने से चीन ने भारतीयों के वापस लौटने पर पाबंदी लगाई हुई थी, क्योंकि 20 जून को भारत से शंघाई लौटने वाले दो भारतीय पॉजिटिव पाए गए थे। गुरुवार को चीन लौटने वाले भारतीयों को स्थानीय स्वास्थ्य विभाग द्वारा होटलों में क्वारंटाइन किया जाएगा। चीन ने विदेशियों के लौटने पर तब तक पाबंदी लगाई है जब उनकी वापसी चीनी कंपनियों द्वारा महत्वपूर्ण नहीं मानी जाती। देश ने सभी के लिए नए वीजा के लिए आवेदन करना भी अनिवार्य कर दिया है।

संबंधित खबरें