DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशचीन की नई चाल; ड्रैगन ने पारित किया नया सीमा कानून, सीमा विवाद के बीच PLA बढ़ाएगा भारत की और टेंशन!

चीन की नई चाल; ड्रैगन ने पारित किया नया सीमा कानून, सीमा विवाद के बीच PLA बढ़ाएगा भारत की और टेंशन!

एजेंसी,बीजिंगShankar Pandit
Mon, 25 Oct 2021 08:26 AM
China enacted a new law on Saturday on its land borders amid a military standoff along the disputed boundary with India
1/ 2China enacted a new law on Saturday on its land borders amid a military standoff along the disputed boundary with India
China enacted a new law on Saturday on its land borders amid a military standoff along the disputed boundary with India
2/ 2China enacted a new law on Saturday on its land borders amid a military standoff along the disputed boundary with India

भारत के साथ सैन्य गतिरोध के बीच चीन ने नया भूमि सीमा कानून पारित किया है। देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को 'पवित्र और अक्षुण्ण' बताते हुए चीन की संसद ने सीमावर्ती इलाकों के संरक्षण और उपयोग को लेकर नया कानून पारित किया है। इसका असर भारत के साथ बीजिंग के सीमा विवाद पर पड़ सकता है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक, नेशनल पीपल्स कांग्रेस (एनपीसी) की स्थायी समिति के सदस्यों ने शनिवार को संसद की समापन बैठक के दौरान इस कानून को मंजूरी दी। यह कानून अगले वर्ष एक जनवरी से प्रभाव में आएगा।

इसके मुताबिक 'पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना' की संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता पावन और अक्षुण्ण है। कानून में यह भी कहा गया है कि सीमा सुरक्षा को मजबूत करने, आर्थिक एवं सामाजिक विकास में मदद देने, सीमावती क्षेत्रों को खोलने, ऐसे क्षेत्रों में जनसेवा और बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने, उसे बढ़ावा देने और वहां के लोगों के जीवन एवं कार्य में मदद देने के लिए देश कदम उठा सकता है। वह सीमाओं पर रक्षा, सामाजिक एवं आर्थिक विकास में समन्वय को बढ़ावा देने के लिए उपाय कर सकता है। देश समानता, परस्पर विश्वास और मित्रतापूर्ण वार्तालाप के सिद्धांतों का पालन करते हुए पड़ोसी देशों के साथ जमीनी सीमा संबंधी मुद्दों से निपटेगा और काफी समय से लंबित सीमा संबंधी मुद्दों और विवादों को उचित समाधान के लिए वार्ता का सहारा लेगा।

भारत और भूटान के साथ चीन का जारी है सीमा विवाद

बीजिंग ने अपने 12 पड़ोसियों के साथ तो सीमा संबंधी विवाद सुलझा लिए हैं, लेकिन भारत और भूटान के साथ उसने अब तक सीमा संबंधी समझौते को अंतिम रूप नहीं दिया है। भारत और चीन के बीच सीमा विवाद वास्तविक नियंत्रण रेखा पर 3,488 किलोमीटर के क्षेत्र में है, जबकि भूटान के साथ चीन का विवाद 400 किलोमीटर की सीमा पर है।

गौरतलब है कि विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला ने पिछले सप्ताह कहा था कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर घटनाक्रमों ने सीमावर्ती क्षेत्रों में अमन-चैन को गंभीर रूप से प्रभावित किया है। जाहिर तौर पर इसका व्यापक रिश्तों पर भी असर पड़ा है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें