DA Image
हिंदी न्यूज़ › विदेश › जो बाइडेन के शपथ लेते ही चीन ने डोनाल्ड ट्रंप की टीम को दिया बड़ा झटका, जानें ड्रैगन की नई हरकत
विदेश

जो बाइडेन के शपथ लेते ही चीन ने डोनाल्ड ट्रंप की टीम को दिया बड़ा झटका, जानें ड्रैगन की नई हरकत

लाइव हिन्दुस्तान टीम,बीजिंगPublished By: Shankar Pandit
Thu, 21 Jan 2021 08:31 AM
जो बाइडेन के शपथ लेते ही चीन ने डोनाल्ड ट्रंप की टीम को दिया बड़ा झटका, जानें ड्रैगन की नई हरकत

अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप की विदाई और जो बाइडेन की नई सरकार के आते ही चीन ने बड़ा कदम उठाया है। अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप का कार्यकाल समाप्त होने के ठीक बाद और बाइडेन के शपथ लेने के कुछ ही देर बाद चीन ने डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के 30 पूर्व अधिकारियों के खिलाफ पाबंदी लगा दी।

समाचार एजेंसी एसोसिएट प्रेस के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के शपथ लेने के कुछ देर बाद ही चीन ने ट्रंप प्रशासन में विदेश मंत्री रहे माइक पोम्पिओ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन और संयुक्त राष्ट्र में राजदूत केली क्राफ्ट समेत करीब 30 अधिकारियों पर यात्रा और कारोबारी लेन-देन पर पाबंदी लगा दी।

इतना ही नहीं, ट्रंप प्रशासन में आर्थिक सलाहकार रहे पीटर नवारू, एशिया के लिए शीर्ष राजनयिक डेविड स्टिलवेल, स्वास्थ्य और मानव सेवा मंत्री एलेक्स अजर के साथ पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन और रणनीतिकार स्टीफन बैनन पर भी पाबंदी लगायी गयी है। ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों पर लगायी गयी ये पाबंदी प्रतीकात्मक हैं लेकिन अमेरिका के प्रति यह चीन के कड़े रुख को जाहिर करता है।

चीन ने माइक पोम्पियो को महाविनाश का पुतला कहा

चीन के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका के निवर्तमान विदेश मंत्री माइक पेाम्पियो को बुधवार को ''महाविनाश का पुतला" करार दिया और कहा कि उनके द्वारा चीन को नरसंहार और मानवता के विरुद्ध अपराध का दोषी करार दिया जाना केवल 'रद्दी का एक पुर्जा भर है। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीन के शिंजियांग क्षेत्र में मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के खिलाफ प्रताड़ना के आरोप लगाना ''एकदम सनसनी" फैलाने वाले छद्म प्रस्ताव हैं और चीन विरोधी दुर्भावना रखने वाले व्यक्ति पोम्पियो की कमान में कम्युनिस्ट विरोधी ताकतों की मनगढ़ंत कहानी है।

ट्रंप ने अपने आखिरी भाषण में क्या कहा
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कार्यकाल के अंतिम संबोधन में अपने उत्तराधिकारी के बेहतर भाग्य की कामना की और किसी न किसी रूप में वापस आने का वचन भी दिया। ट्रंप ने कहा कि आने वाले शासन के पास सफलता का एक बड़ा मौका है, क्योंकि वे उनके शासन से एक मजबूत नींव प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं नए प्रशासन को शुभकामनाएं देता हूं और उनके शानदार सफलता की कामना करता हूं। मुझे लगता है कि उन्हें बहुत सफलता मिलेगी, उनके पास कुछ करने की वास्तव में शानदार नींव है। ट्रंप ने देश के नागरिकों को भी अपनी शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि तो बस अलविदा। हम आपसे प्यार करते हैं। हम किसी न किसी रूप में वापस आएंगे ... एक अच्छा जीवन जिएंगे, हम आपको जल्द ही देखेंगे।

संबंधित खबरें