ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशबढ़ती जा रही चीन की हिमाकत, दिखाने लगा दक्षिण चीन सागर पर अपना दबदबा; बदले कई कानून

बढ़ती जा रही चीन की हिमाकत, दिखाने लगा दक्षिण चीन सागर पर अपना दबदबा; बदले कई कानून

दक्षिण चीन सागर में अपने दबदबे को कायम करने के लिए चीन ने हाल ही में अपने देश में कई नियम बदले हैं। चीन की तरफ बदले गए नियमों के मद्देनजर अब पड़ोसी अब सवाल उठा रहे हैं।

बढ़ती जा रही चीन की हिमाकत, दिखाने लगा दक्षिण चीन सागर पर अपना दबदबा; बदले कई कानून
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 15 Jun 2024 07:44 PM
ऐप पर पढ़ें

अपनी विस्तारवादी नीतियों से लाचार चीन ने एक बार फिर से हिमाकत दिखाने लगा है। चीन ने हाल ही में अपने देश में कई नियम बदले हैं। खास तौर पर दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन ने अपने कानूनों में बदलाव किए हैं। चीन द्वारा जारी किए गए नए समुद्री नियम के मुताबिक, अब उसके तटरक्षक बल विवादित दक्षिण चीन सागर में अतिक्रमण करने वाले विदेशियों को हिरासत में ले सकते हैं। चीन की तरफ बदले गए नियमों के मद्देनजर पड़ोसी देश अब सवाल उठा रहे हैं।

बता दें चीन दक्षिण चीन सागर के लगभग सम्पूर्ण हिस्से पर अपना दावा करता है। चीन ने फिलीपींस सहित कई दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के दावों तथा हेग स्थित मध्यस्थता न्यायाधिकरण के 2016 के फैसले को दरकिनार कर अपने नियमों में बदलाव किया।

जिन जल क्षेत्रों पर ड्रैगन का दावा है वहां चीनी सरकार तटरक्षक बल और अन्य नौकाओं को अपने जलक्षेत्र में गश्त करने के लिए तैनात कर रही है। दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन की इतनी हिमाकत बढ़ गई है कि उसने कई चट्टानी द्वीपों को सैन्यकृत कृत्रिम द्वीपों में बदल दिया है। हाल के वर्षों में, चीनी और फिलीपींस के जहाजों के बीच विवादित क्षेत्रों में कई बार टकराव हुआ है, जिससे व्यापक संघर्ष की आशंका बढ़ गई है।

ऑनलाइन प्रकाशित नए नियमों के अनुसार, शनिवार से चीन का तटरक्षक बल उसकी कथित सीमा प्रवेश और निकास के प्रबंधन का उल्लंघन करने के संदेह में विदेशियों को हिरासत में ले सकता है। नए नियमों के मुताबिक, जटिल मामलों में 60 दिनों तक हिरासत में रखने की अनुमति है। वहीं विदेशी जहाज जो अवैध रूप से चीन के प्रादेशिक जल और आस-पास के जल में प्रवेश करते हैं, उन्हें हिरासत में लिया जा सकता है।