ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशअफ्रीका के बाहर तक फैला मंकीपॉक्स से मौत का दायरा, ब्राजील और स्पेन में दर्ज हुई पहली डेथ

अफ्रीका के बाहर तक फैला मंकीपॉक्स से मौत का दायरा, ब्राजील और स्पेन में दर्ज हुई पहली डेथ

स्पेन में इस वायरस से अब तक 4,298 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से करीब 3,500 पुरुष ऐसे हैं, जिन्होंने अन्य पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाए। संक्रमण के मामलों में केवल 64 महिलाएं हैं।

अफ्रीका के बाहर तक फैला मंकीपॉक्स से मौत का दायरा, ब्राजील और स्पेन में दर्ज हुई पहली डेथ
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मैड्रिडSat, 30 Jul 2022 09:12 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

ब्राजील में मंकीपॉक्स से संक्रमित 41 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई है। अफ्रीका का बाहर इस बीमारी हुई यह पहली मौत है। रिपोर्ट के मुताबिक, संक्रमण के बाद व्यक्ति को इम्यून सिस्टम से जुड़ी गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ा। दक्षिणपूर्वी मिनस गेरैस राज्य की राजधानी बेलो होरिजोंटे में उसकी मौत हो गई।

स्टेट हेल्थ मिनिस्ट्री ने बताया कि अस्पताल में गंभीर हालत में उसका इलाज चल रहा था। ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि देश में अब तक मंकीपॉक्स के करीब 1,000 मामले दर्ज हो चुके हैं। यहां पहला केस 10 जून को मिला था। संक्रमित व्यक्ति यूरोप का यात्रा से लौटा था। 

स्पेन में भी मंकीपॉक्स से पहली मौत दर्ज
स्पेन में भी मंकीपॉक्स से एक व्यक्ति की मौत हुई है। स्पेनी मीडिया के अनुसार देश में मंकीपॉक्स से हुई मौत का यह पहला मामला है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि मंकीपॉक्स से संक्रमित 120 लोगों को अब तक अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है, जिसमें से एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

मंत्रालय ने मौत के बारे में और कोई जानकारी नहीं दी। उसने बताया कि स्पेन में इस वायरस से अब तक 4,298 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से करीब 3,500 पुरुष ऐसे हैं, जिन्होंने अन्य पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाए। संक्रमण के मामलों में केवल 64 महिलाएं हैं।

भारत में अब तक मंकीपॉक्स के 4 केस मिले
बात अगर भारत की करें तो देश में 27 जुलाई तक मंकीपॉक्स के चार मामलों की पुष्टि हुई है, जिसमें तीन केरल से और एक दिल्ली में आया है। स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती पवार ने कहा कि देश में मंकीपॉक्स से मृत्यु का एक भी मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने यह भी कहा कि देश के कुछ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में मई महीने से कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

epaper