ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News विदेशबमबारी से नए साल की शुरुआत, गाजा में 35 फिलिस्तीनियों की मौत; US लाल सागर में ऐक्टिव

बमबारी से नए साल की शुरुआत, गाजा में 35 फिलिस्तीनियों की मौत; US लाल सागर में ऐक्टिव

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने शनिवार देर रात कहा कि गाजा में हमास के खिलाफ इजराइल का युद्ध अभी जारी रहेगा। उन्होंने संकेत दिया कि वह युद्धविराम की अंतरराष्ट्रीय मांग को नहीं मानेंगे।

बमबारी से नए साल की शुरुआत, गाजा में 35 फिलिस्तीनियों की मौत; US लाल सागर में ऐक्टिव
Nisarg Dixitएजेंसी,तेल अवीवMon, 01 Jan 2024 05:25 AM
ऐप पर पढ़ें

नए साल की शुरुआत के साथ ही इजरायल ने गाजा पर हमले और तेज कर दिए। खबर है कि इजरायली सेना ने रविवार को मध्य गाजा में भीषण हवाई हमले किए। इन हमलों में 35 फलस्तीनी नागरिकों की मौत हो गई और दर्जनों घायल हैं। कई इमारतों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। 7 अक्टूबर को हमास ने इजरायल पर हमला कर दिया था।

सेना ने कहा कि इजरायली सेना गाजा के दूसरे सबसे बड़े शहर, खान यूनुस में हमास के ठिकानों की खोज कर रही थी। इसी बीच नागरिक इलाकों में उसे हमास आतंकियों के ठिकानों का पता चला, जिन्हें ध्वस्त कर दिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, मध्य गाजा के ज्वेदा क्षेत्र में 13 लोग मारे गए और दर्जनों अन्य घायल हो गए। 

स्थानीय निवासी हुसैन सियाम ने कहा कि वह निर्दोष थे लेकिन उन्हें मार दिया गया। मध्य दीर अल-बलाह में अल-अक्सा अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि रविवार को 35 शव मिलने की पुष्टि की।

अभी कई महीने और चलेगा युद्ध : बेंजामिन नेतन्याहू
इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने शनिवार देर रात कहा कि गाजा में हमास के खिलाफ इजराइल का युद्ध अभी कई महीनों तक जारी रहेगा। उन्होंने संकेत दिया कि वह युद्धविराम की अंतरराष्ट्रीय मांग को नहीं मानेंगे। नेतन्याहू की इस घोषणा के साथ ही उन्होंने एक प्रकार से संकेत दिया कि वह युद्ध के कारण आम नागरिकों की मौत के बढ़ते आंकड़ों, खाद्य सामग्री की भारी कमी और बड़े पैमाने पर लोगों के विस्थापन के बीच युद्धविराम की उनकी कोई मंशा नहीं है। 

नेतन्याहू ने अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन को निरंतर समर्थन देने के लिए उसका आभार व्यक्त किया। बाइडन प्रशासन ने इस महीने दूसरी बार इजरायल को आपात हालात में हथियारों की बिक्री को मंजूरी दी और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के उस प्रस्ताव पर भी रोक लगाई जिसमें तत्काल युद्ध विराम की मांग की गई थी।

लक्ष्य हासिल करके ही रहेंगे
नेतन्याहू ने टेलीविजन पर अपने संबोधन में कहा, जैसा की चीफ ऑफ स्टाफ ने इस सप्ताह कहा था कि युद्ध अभी कई माह चलेगा। मेरी नीति स्पष्ट है। हम तब तक लड़ाई जारी रखेंगे जब तक हमें युद्ध के इच्छित परिणाम हासिल नहीं हो जाएं। इसमें पहला और सबसे जरूरी है हमास का सफाया और सभी बंधकों की रिहाई।

संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता
संयुक्त राष्ट्र ने रविवार को कहा कि इजरायल और गाजा संघर्ष 2024 में भी चिंता का एक प्रमुख कारण बना रह सकता है। सुरक्षा परिषद के 22 दिसंबर के प्रस्ताव की सही दिशा में एक कदम के रूप में सराहना करते हुए, संयुक्त राष्ट्र ने दिये गये प्रस्ताव में संकटग्रस्त गाजा पट्टी में सहायता वितरण बढ़ाने का आग्रह किया है। कूटनीतिक प्रगति के बावजूद, संयुक्त राष्ट्र ने गाजा और वेस्ट बैंक में नागरिक आबादी के सामने आने वाली गंभीर परस्थितियों को निराशाजनक बताया।

अमेरिकी सेना ने लाल सागर में मार गिराई बैलिस्टिक मिसाइल
लाल सागर में अमेरिकी नौसेना के बेड़े और व्यापारिक जहाजों पर हूती विद्रोहियों ने हमला किया। यूएस सेंट्रल कमांड ने जानकारी देते हुए बताया कि 31 दिसंबर की सुबह अमेरिकी कंटेनर शिप-मेर्स्क हांग्जो पर हमला किया गया। हूती विद्रोहियों की तरफ से दागे गए गोला-बारूद अमेरिकी जहाज से केवल 20 मीटर दूर गिरे। 

रविवार को लाल सागर में अमेरिका ने हूती विद्रोहियों पर हमला किया। हूती विद्रोहियों की चार छोटी नावों को निशाना बनाया गया। अमेरिकी सेना ने दो एंटी शिप मिसाइलों को तबाह कर दिया है। विद्रोहियों ने मिसाइलें लाल सागर में कंटेनर शिप को निशाना बनाकर दागी थीं। यह तीन दिन में दूसरा हमला है, जिसे अमेरिका ने नाकाम कर दिया है।

- 120 लोग अब भी हमास के पास बंधक
- 21672 फलस्तीनी मारे गए हैं अब तक
- 172 इजरायली सैनिक मारे जा चुके अब तक

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें