ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशकनाडा के बाद इटली में भी बेकाबू खालिस्तानी, गांधी प्रतिमा तोड़ी; यहीं आने वाले हैं मोदी-बाइडेन

कनाडा के बाद इटली में भी बेकाबू खालिस्तानी, गांधी प्रतिमा तोड़ी; यहीं आने वाले हैं मोदी-बाइडेन

घटना जी7 शिखर सम्मेलन से कुछ दिन पहले हुई जिसमें PM मोदी भी भाग लेंगे। 50वां जी7 शिखर सम्मेलन 13 से 15 जून तक इटली के अपुलिया क्षेत्र के बोर्गो एग्नाजिया के आलीशान रिसॉर्ट में आयोजित किया जाएगा।

कनाडा के बाद इटली में भी बेकाबू खालिस्तानी, गांधी प्रतिमा तोड़ी; यहीं आने वाले हैं मोदी-बाइडेन
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,रोमWed, 12 Jun 2024 04:53 PM
ऐप पर पढ़ें

कनाडा, अमेरिका और ब्रिटेन के बाद अब खालिस्तानी चरमपंथी इटली में भी नापाक हरकतें करने लगे हैं। इटली में बुधवार को महात्मा गांधी की प्रतिमा के उद्घाटन के कुछ ही घंटों बाद खालिस्तानी चरमपंथियों ने उसे तोड़ दिया। आरोपियों ने प्रतिमा के नीचे खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर से संबंधित विवादित नारे भी लिखे। भारत द्वारा आतंकवादी घोषित किए गए निज्जर की पिछले साल 18 जून को ब्रिटिश कोलंबिया में एक गुरुद्वारे के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

हालांकि घटना के बाद स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि इलाके को "रिकॉर्ड समय" में छान डाला है और जांच कर रहे हैं। यह घटना जी7 शिखर सम्मेलन से कुछ दिन पहले हुई जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भाग लेंगे। 50वां जी7 शिखर सम्मेलन 13 से 15 जून तक इटली के अपुलिया क्षेत्र के बोर्गो एग्नाजिया के आलीशान रिसॉर्ट में आयोजित किया जाएगा। विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए कल इटली के अपुलिया जाएंगे।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना के बारे में बोलते हुए विदेश सचिव क्वात्रा ने कहा कि भारतीय अधिकारियों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के साथ की गई तोड़फोड़ का मामला इतालवी अधिकारियों के समक्ष उठाया है। बुधवार को मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, "महात्मा गांधी की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने का मुद्दा इतालवी अधिकारियों के समक्ष उठाया गया है। आवश्यक कार्रवाई की गई है।" पिछले साल की शुरुआत में इसी तरह की एक घटना में खालिस्तान चरमपंथियों द्वारा कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत के एक विश्वविद्यालय परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया गया था।

इटली के अपुलिया क्षेत्र के बोर्गो एग्नाजिया के आलीशान रिसॉर्ट में 13 से 15 जून तक आयोजित होने वाले जी-7 शिखर सम्मेलन में यूक्रेन में चल रहे युद्ध और गाजा में संघर्ष का मुद्दा छाया रहने की संभावना है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, उनके फ्रांसीसी समकक्ष इमैनुएल मैक्रों, जापानी प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले शीर्ष नेताओं में शामिल हैं। यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की भी उनके देश पर रूसी आक्रमण पर एक सत्र में भाग लेने वाले हैं।