before taking oath of prime minister Imran Khan makes these promises to pakistan - प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले इमरान ने अपने वतन से किए ये वादे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले इमरान ने अपने वतन से किए ये वादे

पाकिस्तान का प्रधानमंत्री निर्वाचित होने के बाद संसद में दिए अपने पहले संबोधन में इमरान खान ने कहा कि देश को लूटने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। 

बदलाव का वादा 

इमरान ने शुक्रवार को कहा, मैं आज अपने वतन से वादा करता हूं कि हम वह तब्दीली लाएंगे जिसके लिए यह मुल्क अर्से से कोशिश करता रहा है। हमें इस देश में सख्त जवाबदेही कायम करनी है। मैं वादा करता हूं कि मैं पाकिस्तान को लूटने वालों के खिलाफ कार्रवाई करूंगा। 

कालेधन वापस लाएंगे

उन्होंने कहा, जो पैसे शिक्षा, स्वास्थ्य और पानी पर खर्च होने चाहिए थे, वे लोगों की जेब में चले गए। कालेधन को सफेद किया गया। लेकिन ऐसे कालेधन को मैं वापस लाऊंगा। मैं ऐसी चुनाव प्रणाली बनाऊंगा जिससे कोई भी व्यक्ति भविष्य में चुनावों में खामियां नहीं तलाश पाएगा। लेकिन कोई मेरा भयादोहन करने की कोशिश न करे। 

22 साल का संघर्ष

साल 1996 में अपनी पार्टी पीटीआई की स्थापना करने वाले पख्तून ने कहा, मैं किसी तानाशाह के कंधों पर चढ़कर इस मुकाम पर नहीं पहुंचा। मैं 22 साल के संघर्ष के बाद इस मुकाम पर पहुंचा हूं। सिर्फ एक नेता ने मुझसे ज्यादा संघर्ष किया और वह मेरे नायक मोहम्मद अली जिन्ना थे। जिन्ना पाकिस्तान के संस्थापक थे। भ्रष्टाचार के मामले में दोषी करार दिए गए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की तरफ इशारा करते हुए इमरान ने कहा, मैं किसी डकैत के प्रति कोई नरमी नहीं बरतूंगा।  

पीएमएल-एन का प्रदर्शन

इससे पहले प्रधानमंत्री चुनाव के लिए हुए मतदान के नतीजों की घोषणा की गई, जिसके बाद पीएमएल-एन के सांसदों ने इमरान के खिलाफ नारे लगाए और सदन में विरोध प्रदर्शन किया। जेल में बंद पूर्व प्रधनमंत्री नवाज शरीफ की तस्वीरें हाथ में लेकर पीएमएल-एन के समर्थकों ने ‘वोट को इज्जत दो’ के नारे लगाए। इस शोर-शराबे के कारण 15 मिनट के लिए सदन की कार्यवाही निलंबित कर दी गई। जब कार्यवाही बहाल हुई तब स्पीकर ने भावी प्रधानमंत्री इमरान से सदन को संबोधित करने के लिए कहा।

चुनाव में धांधली का अरोप

पीएमएल-एन प्रमुख शाहबाज शरीफ ने शुक्रवार को संसद को संबोधित करते हुए कहा कि पीटीआई की जीत सुनिश्चित करने के लिए चुनाव में धांधली की गई। उन्होंने संसद से इन चुनावों की निष्पक्ष जांच करने की मांग की। उन्होंने कहा, मैं मांग करता हूं कि धांधली की जांच के लिए एक स्थायी आयोग बनाया जाए। यदि सरकार ने चुनाव में धोखाधड़ी की जांच नहीं की तो वह प्रदर्शन शुरू करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि उनके बड़े भाई नवाज शरीफ को गलत तरीके से दोषी करार देकर अयोग्य ठहराया गया है।

थोड़ी देर में इमरान खान का शपथ ग्रहण, पाकिस्तान के बनेंगे 22वें प्रधानमंत्री

वाजपेयी ने चीन-भारत रिश्तों में अहम भूमिका निभाई : चीन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:before taking oath of prime minister Imran Khan makes these promises to pakistan