Bangladesh Statement on NRC There is No bangladeshi in Assam this is India personal Matter - NRC: असम में कोई बांग्लादेशी नहीं, ये भारत का आंतरिक मसला-बांग्लादेश DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

NRC: असम में कोई बांग्लादेशी नहीं, ये भारत का आंतरिक मसला-बांग्लादेश

शेख हसीना

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) में 40 लाख लोगों का नाम ना होने को लेकर देश में बवाल खड़ा हो गया है। माना जा रहा है कि ये लोग बांग्लादेशी हो सकते हैं। इसी बीच मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बांग्लादेश की तरफ से बयान आया है कि जिन लोगों का नाम NRC में नहीं है वो बांग्लादेशी नहीं हैं। बांग्लादेश के सूचना मंत्री एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा है कि असम में कोई भी बांग्लादेशी नागरिक नहीं है। जो भी लोग पेरशानी पैदा कर रहे हैं वो भारतीय हैं। अवैध नागरिकों का मसला भारत का आंतरिक मसला है इससे बांग्लादेश का कोई लेना देना नहीं है।

बता दें कि असम में कड़ी सुरक्षा के बीच सरकार ने असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के दूसरे एवं अंतिम मसौदा को जारी किया है, ताकि अवैध तौर पर वहां पर रह रहे लोगों का पता लगाया जा सके। इसे कड़ी सुरक्षा के बीच जारी किया गया है। हालांकि, सरकार ने यह साफ कर दिया है कि अभी लोगों को इसमें अपना नाम शामिल कराने के लिए पर्याप्त मौका दिया जाएगा और फिलहाल किसी को नहीं निकाल जाएगा। 
एनआरसी पर ममता की चेतावनी, 'देश में छिड़ जाएगा गृह युद्ध और रक्तपात' 

रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया शैलेख ने सोमवार को बताया कि 2 करोड़ 89 लाख 83 हजार छह सौ सात लोगों को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर में योग्य पाकर उन्हें शामिल किया गया है और 40.07 लाख आवेदकों को इसमें जगह नहीं मिली है। करीब 3 करोड़ 29 लाख लोगों ने इस सूची के लिए एप्लाई किया था। शैलेश ने कहा कि जिन लोगों का नाम इस सूची में शामिल नहीं है उन्हें पर्याप्त मौका दिए जाएगा ताकि वह अपने दावे और विरोध दर्ज करा सकें।

NRC पर अमित शाह: किसी भी भारतीय का नाम नहीं कटेगा,विपक्ष गुमराह ना करे

ऐसे जानें क्या है NRC, असम में 40 साल में कैसे बढ़ गए सवा करोड़ वोटर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bangladesh Statement on NRC There is No bangladeshi in Assam this is India personal Matter