Thursday, January 27, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेश5 साल की यज़ीदी बच्ची पर ढाये थे जुल्म, सजा सुनकर गिर पड़ा IS आतंकी

5 साल की यज़ीदी बच्ची पर ढाये थे जुल्म, सजा सुनकर गिर पड़ा IS आतंकी

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीAshutosh Ray
Tue, 30 Nov 2021 06:07 PM
5 साल की यज़ीदी बच्ची पर ढाये थे जुल्म, सजा सुनकर गिर पड़ा IS आतंकी

इस खबर को सुनें

जर्मनी की एक अदालत की ओर से लड़की की हत्या करने और अन्य एक मामले में उम्रकैद की सजा सुनने के बाद आईएसआईएस आतंकी कोर्ट में ही गिर पड़ा। 29 साल का इराकी ताहा अल जुमैली आज अपना फैसला सुनने के लिए फ्रैंकफर्ट की एक अदालत में पुश हुआ था, जहां उसे एक फोल्डर के जरिए चेहरा ढकते हुए देखा गया था।

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक 2013 में आईएस में शामिल होने के बाद नरसंहार, मानवता के खिलाफ अपराध, वार क्राइम, वार क्राइम में सहायता और उकसाने वाले घातक परिणामों के साथ शारीरिक प्रताड़ना का दोषी पाए जाने के बाद जब कोर्ट अपना फैसला सुना रहा था तो दोषी अदालत के बाहर चला गया। जिसकी वजह से सुनवाई कुछ देर के रोक दी गई थी। ऐसा माना जाता है कि लेबल का उपयोग करने वाला यह दुनिया का पहला फैसला है।

उत्तरी इराक के कुर्द भाषी समूह यज़ीदी को आईएस के उग्रवादियों की ओर से सालों से सताया गया है, जिन्होंने सैकड़ों पुरुषों की हत्या की है, महिलाओं का बलात्कार किया है और बच्चों को जबरन लड़ाकों के रूप में भर्ती किया है। फैसला सुनाए जाने को लेकर वकील ने कहा कि यज़ीदी समुदाय के लिए एक ऐतिहासिक क्षण है। उन्होंने कहा, 'यजीदी इतिहास में यह पहली बार है कि कोई अपराधी नरसंहार के आरोप में अदालत में खड़ा हुआ है।'

अभियोजकों ने कहना है कि अल-जुमैली और जेनिफर वेनिश नाक की उसकी पूर्व पत्नी ने साल 2015 में आईएस वाले कब्जे मोसुल में रहते हुए एक यज़ीदी महिला और बच्चे को घरेलू 'गुलाम' के रूप में 'खरीदा था। इसके बाद वे फालुज चले गए, जहां अल जुमैली ने पांच साल की एक बच्ची को केवल इसलिए प्रताड़िता किया क्योंकि उसने गद्दे को गीला कर दिया था। उसने बच्ची को 50 डिग्री सेल्सियस तक की कड़ाके की गर्मी में खिड़की पर जंजीरों से बांध दिया था जिसके बाद बच्ची की प्यास नहीं बुझने से मौत हो गई थी।

epaper

संबंधित खबरें