ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेश80 साल की उम्र में बुजुर्ग पहली बार बना पिता, VIDEO देख हैरत में पड़े लोग; कर रहे हैं ऐसे कमेंट

80 साल की उम्र में बुजुर्ग पहली बार बना पिता, VIDEO देख हैरत में पड़े लोग; कर रहे हैं ऐसे कमेंट

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक 80 साल का बुजुर्ग एक नवजात शिशु के पास खड़ा नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि यह उसकी पहली संतान है।

80 साल की उम्र में बुजुर्ग पहली बार बना पिता, VIDEO देख हैरत में पड़े लोग; कर रहे हैं ऐसे कमेंट
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 24 Jun 2024 12:22 AM
ऐप पर पढ़ें

मलेशिया में पाक योब नाम के 80 साल के शख्स ने अपने पहले बच्चे का स्वागत किया। 31 मई को योब एक बेटी के पिता बने। हाल ही में, एक क्लिप ऑनलाइन साझा की गई थी, जिसमें पाक योब अस्पताल में अपने नवजात शिशु के पालने के पास खड़े होकर अजान पढ़ते हुए दिखाई दे रहे थे। इस वीडियो ने इंटरनेट यूजर्स के बीच काफी हलचल मचा दी है। साथ ही कई लोगों ने पाक योब और उनकी 42 वर्षीय पत्नी उम्मी की तारीफ की।

उम्मी के अनुसार, दम्पति ने अपने पहले बच्चे को जन्म देने से पहले 10 साल तक प्रयास किया था। मगर उन्हें सफलता नहीं मिली। अब जब उनकी गोद भर गई है तो दम्पति इसे ऊपरवाले का उपहार मान रही है। उल्लेखनीय है कि इस जोड़े की उम्र में 38 वर्ष का अंतर होने के अलावा, सोशल मीडिया यूजर्स इस बात से आश्चर्यचकित थे कि पाक योब की उम्र इतनी अधिक होने के बावजूद उनकी पत्नी कैसे गर्भधारण कर सकती हैं।
 
हालांकि, अन्य लोग इस बात को लेकर अधिक चिंतित थे कि 80 की उम्र में पाक योब को बच्चे की परवरिश में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। एक यूजर ने पूछा, "क्या उनके पास बच्चे की देखभाल करने की ऊर्जा बची होगी?" जबकि दूसरे ने आश्चर्य जताते हुए कहा, "बूढ़ा आदमी अपने बच्चे को कितने साल और बड़ा होते देख सकता है?"

इंटरनेट पर तमाम टिप्पणियों के बावजूद, पाक योब और उम्मी की कहानी ने उन व्यक्तियों को भी राहत पहुंचाई जो स्वयं बच्चे पैदा करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस जोड़े से प्रेरित होकर एक यूजर ने अपने बात साझा की, यूजर ने कहा, "मैं अभी 40 साल का हुआ हूं और मेरे अभी भी बच्चे नहीं हैं। कभी-कभी मैं इसके बारे में सोचकर निराश हो जाता हूं। अगर इस उम्र में भी बच्चे पैदा होते हैं तो यह कमाल है। शायद हमें और ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है।" कई लोगों ने पाक योब और उम्मी की कहानी को प्रेम और धैर्य की कहानी बताया है। उनका मानना है दृढ़ विश्वास इस तरह का चमत्कार हो सकता है।