ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशयूक्रेन को अतिरिक्त सैन्य सहायता भेजेगा अमेरिका, जो बाइडेन आज कर सकते हैं ऐलान

यूक्रेन को अतिरिक्त सैन्य सहायता भेजेगा अमेरिका, जो बाइडेन आज कर सकते हैं ऐलान

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन रूसी आक्रमण का सामना कर रहे यूक्रेन की मदद करने के लिए अतिरिक्त सैन्य सहायता भेजने संबंधी योजनाओं की बृहस्पतिवार को घोषणा कर सकते हैं।

यूक्रेन को अतिरिक्त सैन्य सहायता भेजेगा अमेरिका, जो बाइडेन आज कर सकते हैं ऐलान
Himanshu Jhaएपी,वाशिंगटन।Thu, 21 Apr 2022 11:08 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन रूसी आक्रमण का सामना कर रहे यूक्रेन की मदद करने के लिए अतिरिक्त सैन्य सहायता भेजने संबंधी योजनाओं की बृहस्पतिवार को घोषणा कर सकते हैं। अमेरिका के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

नाम उजागर ना करने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि बाइडेन व्हाइट हाउस में बृहस्पतिवार सुबह एक भाषण देंगे, जिसमें प्रशासन द्वारा यूक्रेन के लिए पहले ही स्वीकृत की गई करीब 2.6 अरब डॉलर की सैन्य सहायता का विवरण दिया जाएगा।  इसके पिछले सप्ताह घोषित किए गए बाइडेन के 80 करोड़ डॉलर के पैकेज के समान होने की उम्मीद है।

इसमें पूर्वी यूक्रेन के डोनबास क्षेत्र में बढ़ते आक्रमण का सामना करने के लिए यूक्रेनी सेना के लिए आवश्यक भारी तोपखाना और गोला-बारूद शामिल हैं।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी इस सप्ताह कहा था कि उनका देश यूक्रेन को तोपें भेजेगा। नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट ने भी यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की से कहा है कि नीदरलैंड बख्तरबंद वाहनों सहित अधिक भारी हथियार भेजेगा।

अमेरिका के एक वरिष्ठ रक्षा अधिकारी ने बुधवार को बताया कि यूक्रेन के बाहर एक यूरोपीय देश में अमेरिकी 155 मिमी होवित्ज़र पर यूक्रेनी कर्मियों का प्रशिक्षण शुरू हो गया है। बाइडेन ने बुधवार को अमेरिकी सैन्य अधिकारियों की यूक्रेन को हथियार देने के ''असाधारण'' कदम के लिए सराहना की थी।

राष्ट्रपति पद का कार्यभार संभालने के बाद बाइडेन ने व्हाइट हाउस में शीर्ष सैन्य कमांडर की पहली व्यक्तिगत बैठक में कहा, '' मुझे आपके बारे में नहीं पता, लेकिन मैं युद्ध से पहले कई बार यूक्रेन गया हूं ... और मुझे पता था कि वे काफी मजबूत और सम्मान से रहने वाले लोग हैं, लेकिन मेरा मानना है कि मुझे जितना लगा था वह उससे कहीं अधिक मजबूत और अपने सम्मान की रक्षा करने के लिए डट कर खड़े रहने वाले लोग हैं।'' 

epaper