DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेजन के जंगलों में लगी आग 'घोर' आपातकाल, जी7 एजेंडा में किया जाए शामिल

amazon reports record surge in forest fires

अमेजन वर्षावनों में लगी आग ''घोर आपातकाल” साबित हो सकती है और इस सप्ताहांत में होने वाले जी7 शिखर सम्मेलन के लिए फ्रांस में जुटे विश्व नेताओं को इस पर चर्चा करनी चाहिए। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह बात कही।

स्टीफन सीबर्ट ने बर्लिन में संवाददाताओं से कहा, “अमेजन क्षेत्र में आग जिस पैमाने पर फैली है वह चौंकाने वाला है और यह न सिर्फ ब्राजील तथा अन्य प्रभावित देशों के लिए भयावह है बल्कि पूरे विश्व के लिए है।” उन्होंने कहा, “चांसलर इस बात पर सहमत हैं कि जब जी7 देश इस सप्ताहांत में साथ आएंगे तो अमेजन वर्षावन की इस घोर समस्या को एजेंडा में शामिल किया जाएगा।”

वहीं दूसरी ओर, ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो ने इस बात से इनकार किया है कि उनकी नीतियां अमेजन जंगल में लगी भयानक आग के लिए जिम्मेदार है। उन्होंने मीडिया पर आरोप लगाया कि वह उन्हें 'कैप्टन नीरो' कहकर देश के हितों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। बोल्सोनारो ने शुष्क मौसम में लगी आग का हवाला देते हुए कहा, ''मैं आग लगने की घटना का बचाव नहीं करता हूं क्योंकि हमेशा ही आग लगती रही है और यह लगती रहेगी। दुर्भाग्यवश अमेजन के जंगल में ऐसा हमेशा होता है।"

अमेजन में आग के बाद 'कैप्टन नीरो' के टैग को ब्राजील के राष्ट्रपति ने नकारा

राष्ट्रपति ने ब्रासीलिया में अपने आवास के बाहर कहा कि आग के लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराना ब्राजील के खिलाफ अभियान है। 'कैप्टन नीरो' का यह टैग रोम के राजा नीरो से आया है जो रोम के जलने के दौरान बांसुरी बजा रहा था। बोल्सोनारो पूर्व में सेना में कैप्टन रह चुके हैं।

वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया था कि अमेजन जंगल में लगी आग एक अंतराष्ट्रीय संकट है और उसे इस सप्ताहांत में फ्रांस में होने वाले जी-7 देशों के सम्मेलन के दौरान बातचीत के क्रम में शीर्ष प्रमुखता दी जाए। इस ट्वीट पर ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा कि मैक्रों 'उपनिवेशवादी मानसिकता के हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Amazon Wildfires Emergency Should Be in G7 Agenda