DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काबुल हमला: अफगान राष्ट्रपति ने खाई इस्लामिक स्टेट के गढ़ को ध्वस्त करने की कसम

ashraf ghani  reuters 15 july  2018

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने इस्लामिक स्टेट समूह के सभी पनाहगाहों को ''ध्वस्त" करने का संकल्प जताया। आईएस से जुड़े स्थानीय समूहों द्वारा एक शादी समारोह के दौरान किए गए हमले के एक दिन बाद सौवें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने सोमवार को यह बात कही।

राष्ट्रपति अशरफ गनी का बयान ऐसे समय में आया है जब काबुल में एक विवाह हॉल में शनिवार की देर रात बम विस्फोट में बच्चों सहित कम से कम 63 लोगों की मौत को लेकर देश शोकग्रस्त है। हमले में करीब 200 लोग जख्मी हो गए। कई क्षुब्ध अफगान नागरिकों ने पूछा कि क्या अमेरिका और तालिबान के बीच चल रही शांति वार्ता से लोग शांति की उम्मीद कर सकते हैं, जो लंबे समय से पीड़ित हैं।

बम हमलावर ने नृत्य कर रही भीड़ के बीच में खुद को विस्फोट से उड़ा लिया था और आईएस से जुड़े एक संगठन ने बाद में कहा कि उसने अल्पसंख्यक शिया समुदाय को निशाना बनाया था। हमले में दूल्हा और दुल्हन दोनों बच गए थे और स्थानीय समाचार प्रसारक 'टोलो न्यूज' को दिए भावुक साक्षात्कार में दूल्हा मीरवाइज अलानी ने कहा कि उनकी जिंदगी कुछ सेकेंड के अंदर तबाह हो गई।

गनी ने सोमवार को कहा कि इसके लिए तालिबान जिम्मेदार है। गनी ने कहा, ''हर नागरिक के एक-एक बूंद खून का बदला लिया जाएगा। आईएस के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रहेगा, हम बदला लेंगे और उन्हें उखाड़ फेंकेंगे।"

उन्होंने कहा कि आतंकवादियों का पनाहगाह सीमा पार पाकिस्तान में है जिनकी खुफिया सेवा पर लंबे समय समय से तालिबान का समर्थन करने का आरोप लगता रहा है। गनी ने पाकिस्तान के लोगों से अपील की कि आईएस के पनाहगाह की पहचान करने में मदद करें क्योंकि ''वहां के लोग शांति चाहते हैं।"

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Afghanistan President Ashraf Ghani vows to crush Islamic State havens after Kabul Suicide Attack