ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशअफगानिस्तान में 'इस्लाम का अपमान', तालिबान ने YouTube वीडियो बनाने वाले मॉडल को पकड़ा

अफगानिस्तान में 'इस्लाम का अपमान', तालिबान ने YouTube वीडियो बनाने वाले मॉडल को पकड़ा

मानवाधिकारों पर ध्यान केंद्रित करने वाले एक गैर सरकारी संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल के अनुसार, काबुल स्थित सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर ने पिछले हफ्ते अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया था।

अफगानिस्तान में 'इस्लाम का अपमान', तालिबान ने YouTube वीडियो बनाने वाले मॉडल को पकड़ा
Amit Kumarएएनआई,काबुलThu, 09 Jun 2022 10:01 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एक अफगान मॉडल-यूट्यूबर अजमल हकीकी और उसके तीन साथियों को तालिबान ने इस्लाम और कुरान का अनादर करने का आरोप लगाते हुए गिरफ्तार किया है। मानवाधिकारों पर ध्यान केंद्रित करने वाले एक गैर सरकारी संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल के अनुसार, काबुल स्थित सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर ने पिछले हफ्ते अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें कथित तौर पर उसके और उसके तीन अन्य सहयोगियों द्वारा कुरान की आयतों का मजाकिया अंदाज में इस्तेमाल किया गया था।

वीडियो में जब उनका एक सहयोगी मजाकिया लहजे में, अरबी में कुरान की आयतें पढ़ता है तो वे हंसने लगते हैं। हालांकि इस वीडियो के बाद में, 5 जून को हकीकी द्वारा एक और वीडियो पोस्ट किया गया, जिसमें वह पिछले वाले वीडियो के लिए माफी मांगते हुए दिखाई दे रहे थे।

हालांकि, एमनेस्टी इंटरनेशनल के अनुसार, उन्हें और उनके तीन सहयोगियों को तालिबान के खुफिया महानिदेशालय द्वारा 7 जून को "इस्लामी पवित्र मूल्यों का अपमान" करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। इसी दिन दोबारा हकीकी का एक वीडियो 'कबूलनामा' जारी किया गया था जहां उन्होंने फिर से माफी मांगी।

एमनेस्टी इंटरनेशनल द्वारा 8 जून को एक बयान जारी किया गया था जिसमें कहा गया था, "तालिबान को तुरंत और बिना शर्त YouTubers को रिहा करना चाहिए और उन लोगों की लगातार सेंसरशिप को समाप्त करना चाहिए जो अपने विचारों को स्वतंत्र रूप से व्यक्त करना चाहते हैं।"

epaper