Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ विदेशचीन में बारिश ने मचाई तबाही, 21 की मौत और 4 लापता, बीते महीने गई थी 300 की जान

चीन में बारिश ने मचाई तबाही, 21 की मौत और 4 लापता, बीते महीने गई थी 300 की जान

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली Nootan Vaindel
Fri, 13 Aug 2021 08:43 AM
चीन में बारिश ने मचाई तबाही, 21 की मौत और 4 लापता, बीते महीने गई थी 300 की जान

इस खबर को सुनें

चीन के हुबेई प्रांत के एक कस्बे में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण कम-से-कम 21 लोगों की मौत हो गई और चार लोग अब भी लापता है। बीते कुछ दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश ने चीन में तबाही मचा दी है। अलग-अलग इलाकों में पानी भरने से जन-जीवन मुश्किल हो गया है। पिछले महीने भी हेनान प्रांत में आई बाढ़ में 300 लोग मारे गए थे और 50 लोग लापता हो गए थे।

चीन के कुछ प्रांतों में हो रही बारिश से सड़कों पर पानी भर गया है। राहत और बचाव कार्य चल रहा है। मध्य चीन के हुबेई प्रांत के एक कस्बे में भारी बारिश के कारण  21 लोगों की मौत हो गई और चार अन्य लापता हैं। स्थानीय अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने कहा कि सुइक्सियन काउंटी के लिउलिन टाउनशिप में बुधवार से गुरुवार तक कुल वर्षा 503 मिमी तक पहुंच गई, जिससे औसत जलभराव की गहराई 3.5 मीटर हो गई।- सरकारी समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, बस्ती में 8,000 से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं।

आपदा राहत और बचाव के प्रयास जारी हैं।  चीन के राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने गुरुवार को येलो अलर्ट जारी करते हुए देश के कुछ मध्य और पूर्वी हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए एहतियाती कदम उठाने का आह्वान किया।

शुक्रवार को हुबेई, अनहुई, हुनान, जियांग्शी और झेजियांग के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की संभावना है, कुछ क्षेत्रों में 200 मिमी तक बारिश हो सकती है।
पांच प्रांतों के कुछ हिस्सों में गरज और आंधी के साथ प्रति घंटा 80 मिमी से अधिक वर्षा होने की संभावना है।

राष्ट्रीय वेधशाला ने स्थानीय अधिकारियों को संभावित बाढ़, भूस्खलन और भूस्खलन के लिए सतर्क रहने की सलाह दी है और खतरनाक क्षेत्रों में बाहरी गतिविधियों को रोकने की सिफारिश की है। पिछले महीने हेनान प्रांत और इसकी प्रांतीय राजधानी झेंग्झौ शहर में आई भारी बाढ़ में 300 से अधिक लोग मारे गए थे और 50 लापता हो गए थे।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें