DA Image
26 मई, 2020|1:04|IST

अगली स्टोरी

18 वर्षीय अमेरिकी नागरिक लश्कर की मदद करने का दोषी, आतंकी ट्रेनिंग के लिए लोगों को भेजता था PAK

Jaish terrorist arrested from Uttar Pradesh (Symbolic Pic)

अमेरिका के 18 वर्षीय एक नागरिक को बुधवार को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) की मदद करने और उसके लिये लड़ाकों की भर्ती करने का दोषी पाया गया है। इसी संगठन ने मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले को अंजाम दिया था। टेक्सास के फोर्ट वर्थ के रहने वाले माइकल काइली सीवेल को फरवरी में गिरफ्तार किया गया था और उसने स्वीकार किया कि उसने एक व्यक्ति को लश्कर से जुड़ने के लिये उकसाया था। अदालत के दस्वावेजों में दूसरे शख्स की पहचान सह-साजिशकर्ता के तौर पर की गई है।

अब वह 20 वर्ष की संघीय कैद और ढाई लाख अमेरिकी डॉलर के जुर्माने का सामना कर रहा है। यह सजा 12 अगस्त से शुरू होगी।  याचिका के मुताबिक सीवेल सोशल मीडिया पर सह-साजिशकर्ता से बात करता था और उसने सहसाजिशकर्ता को उस व्यक्ति के बारे में जानकारी मुहैया कराई जो उसके मुताबिक लश्कर में शामिल होने के लिये सह-साजिशकर्ता की पाकिस्तान यात्रा के लिये प्रबंध कर सकता था।

सीवेल और सहसाजिशकर्ता हालांकि इस बात से अनजान थे कि यात्रा प्रबंध के लिये वे जिस शख्स के संपर्क में थे वह असल में छद्मपहचान के साथ एक एफबीआई एजेंट ही था। सीवेल ने सहसाजिशकर्ता के साथ इस बात पर चर्चा की कि वह यात्रा का प्रबंध करने वाले शख्स (अंडरकवर एफबीआई एजेंट)से क्या कहे जिससे वो उसका भरोसा जीत सके और लश्कर-ए-तैयबा में शामिल होने के लिये मंजूरी दे दे।

उसने अंडरकवर एफबीआई एजेंट से भी संपर्क किया और सहसाजिशकर्ता की प्रमाणिकता को लेकर दलील देते हुए दोनों को बताया कि अगर सहसाजिशकर्ता जासूस निकला तो वह उसकी हत्या कर देगा। फरवरी में सीवेल पर एफबीआई ने सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर लश्कर की तरफ से लोगों को भर्ती करने और उन्हें आतंकवादी प्रशिक्षण के लिये पाकिस्तान भेजने का आरोप लगाया।  फॉक्स4 न्यूज की खबर के मुताबिक यह स्पष्ट नहीं है कि सीवेल अभी हिरासत में है या नहीं।

अदालत के दस्तावेजों के अनुसार, उन्हें फेडरल ब्यूरो ऑफ इनवेस्टीगेशन (एफबीआई) के अंडरकवर एजेंट और खुद को जिहादी बताकर आतंकवादी भर्ती में शामिल होने वाले एक कर्मचारी ने पकड़ा। सेवेल ने अंडरकवर कर्मी को खुद को 'अकेला भेड़िया' और 'तौहीद का अकेला शेर' बताया। सेवेल के यह स्वीकार करने के बाद वह अब दोषी बन गया है। यहां अदालतों में स्वीकरोक्ति को दोषी याचिका कहा जाता है।

न्यूयार्क के जेएफके हवाईअड्डे पर गिरफ्तार हुए एक अन्य व्यक्ति जीसस विलफ्रेडो एनकार्नेसियन (29) पर लश्कर की सहायता करने की साजिश रचने का आरोप है। जीसस फरवरी में लश्कर में शामिल होने के लिए विमान में चढ़ने ही वाला था कि उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:18 year old US national pleads guilty to providing support to LeT