ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News विदेशपाकिस्तान के स्कूल में लगी भीषण आग और अंदर थीं 1400 छात्राएं, कैसे बच पाई जान

पाकिस्तान के स्कूल में लगी भीषण आग और अंदर थीं 1400 छात्राएं, कैसे बच पाई जान

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा इलाके में एक स्कूल की इमारत में आग लग गई। दमकल कर्मियों ने स्कूल के अंदर फंसी 1400 छात्राओं को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। स्कूल की आधी इमारत आग में जल गई।

पाकिस्तान के स्कूल में लगी भीषण आग और अंदर थीं 1400 छात्राएं, कैसे बच पाई जान
Prachiभाषा,पेशावरMon, 27 May 2024 05:29 PM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एक स्कूल में सोमवार को भीषण आग लग गई। पहाड़ी इलाके में हुई इस घटना में 1400 लड़कियां स्कूल के अंदर फंस गई थीं। गनीमत रही कि सभी को सुरक्षित निकाल लिया गया। अब तक यह जानकारी नहीं मिल सकी है कि स्कूल में आग कैसे लगी, लेकिन माना जा रहा है कि शॉर्ट सर्किट के चलते यह हादसा हुआ। पाकिस्तान के जियो न्यूज़ चैनल से बचाव अधिकारी ने बताया कि हरिपुर जिले के सिरिकोट गांव में स्थित एक स्कूल बिल्डिंग में आग तब लगी, जब हजार से भी ज्यादा छात्राएं स्कूल के अंदर मौजूद थीं। 

अधिकारी ने बताया कि फायर ब्रिगेड कर्मियों ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर आग बुझाने का काम किया। स्कूल की इमारत पहाड़ी इलाके पर होने की वज़ह से दमकल की गाड़ियों को स्कूल पहुंचने के लिए बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ा। बचाव अधिकारी ने यह भी बताया कि आगजनी की घटना से किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है और स्कूल की इमारत का आधा हिस्सा लकड़ी से बना हुआ था। 

हरिपुर के रेस्क्यू 1122 के प्रवक्ता फराज जलाल ने बताया कि स्कूल के अंदर लगभग 1400 छात्राएं थीं और सभी छात्राओं को इमारत से सुरक्षित निकाल लिया गया है और स्कूल की इमारत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। खैबर पख्तूनख्वा के मुख्य सचिव नदीम असलम चौधरी ने कहा कि स्कूल में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट था। उन्होंने यह भी बताया कि घटना की जांच की जाएगी और स्कूल और फिर से जल्द ही दोबारा शुरू किया जाएगा। 

खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री अली अमीन गंडापुर ने बताया कि दमकल कर्मियों ने समय से उचित कार्रवाई की और छात्राओं को इमारत से बाहर निकाल लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि  दुर्घटना से संबंधित रिपोर्ट शिक्षा विभाग और जिला प्रशासन सौपेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में ऐसी घटना दोबारा न हो इसलिए सभी शिक्षण संस्थानों की समीक्षा की जाएगी। अली अमीन ने कहा कि स्कूल इमारत में आग से हुए नुकसान की भरपाई प्रांत सरकार करेगी।