DA Image
29 जनवरी, 2020|1:47|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिनभर की कमाई पलभर में लूट ले जाते थे बदमाश

loot

दिनभर की कमाई पलक झपकते ही लूट ले जाते थे। विरोध करने पर फायरिंग भी करते थे। ताबड़तोड़ वारदातों ने पुलिस के नाक में दम कर रखा था। राजीवनगर से लेकर दानापुर तक की बड़ी दुकानें इनके निशाने पर था। पुलिस ने जब इन वारदातों की जांच की तो चौंकाने वाली जानकारी सामने आई। ये लुटेरे दुकान बंद करने के समय वारदात को अंजाम देते थे। इससे दिनभर की कमाई झटके में चली जाती थी। अब ये लुटेरे वारदात को अंजाम नहीं दे पाएंगे। इस तरह की घटनाओं में शामिल तीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से एक मोबाइल और घटना में उपयोग की गई मोटरसाइकिल भी बरामद हुई है।

इनकी हुई है गिरफ्तारी :
हवाईअड्डा थाना क्षेत्र के टहल टोला (स्थायी पता- सुजाउतपुर, अरेराज, मोतिहारी) निवासी दीपक कुमार, रूपसपुर थाना क्षेत्र के आदर्श विहार कॉलोनी (स्थायी पता- सिकेट, मशरक, सारण) निवासी अंकित कुमार, फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र के बी-104, सबीर अपार्टमेंट, करबला रोड (स्थायी पता- खीरोदपुर, फतुहा) निवासी अरमान अशरफ की गिरफ्तारी हुई है। अंकित तो फुलवारीशरीफ थाना में एनडीपीएस एक्ट का आरोपी रह चुका है। इनका साथी इमरान भी लूट-पाट में संलिप्त रहा है। हालांकि इमरान की गिरफ्तारी पांच जनवरी को ही हो गई थी। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए जांच चल रही है।

इन घटनाओं को दिया अंजाम
17 दिसंबर 2019 की रात करीब साढ़े दस बजे राजीवनगर के वसंत विहार कॉलोनी में मुन्ना कुमार अपनी किराना दुकान बंद कर रहे थे। इसी दौरान तीन अपराधी मुंह पर गमछा बांधकर पहुंचे। बचने के लिए मुन्ना वहां से भागने लगे। तीनों अपराधियों ने मुन्ना पर फायरिंग कर दी, जिससे वह घायल हो गए।

28 दिसंबर 2019 की रात करीब साढ़े नौ बजे राजीव नगर के ही थाना क्षेत्र के आशियाना नगर, फेज-01, सूर्यविहार कॉलोनी स्थित आई मार्ट स्टोर को बंद करते हुए बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया। दो मोटरसाइकिल पर सवार चार नकाबपोश बदमाश आए और तमंचे के बल पर 68 हजार रुपए नगद, मार्ट के मालिक नवीन कुमार व एक ग्राहक का मोबाइल लूटकर चले गए।

23 दिसंबर 2019 को दानापुर थाना क्षेत्र के आर्य समाज मंदिर रोड में भी इन लुटेरों ने वारदात का अंजाम दिया। यहां किस मार्ट स्टोर को बंद करते से ठीक पहले कैश काउंटर से तीन बदमाश 15 हजार रुपए नगद लूट ले गए। विरोध करने पर वहां के दो कर्मचारियों पर चाकू से हमला किया था। इसमें दोनों घायल भी हुए थे। संचालक गोपाल कुमार ने इसकी शिकायत दर्ज कराई थी।

विशेष टीम का गठन
ताबड़तोड़ हुई इस तरह की घटनाओं ने पुलिस को परेशान कर दिया था। नगर पुलिस अधीक्षक मध्य/पश्चिमी, पटना के नेतृत्व में सहायक पुलिस अधीक्षक, विधि व्यवस्था, राजीवनगर, दानापुर और रूपसकपुर के थानाध्यक्ष एवं तकनीकी शाखा के पदाधिकारियों व कर्मचारी को शामिल करते हुए विशेष टीम बनाई गई। पूरी पड़ताल करने के बाद वारदातों में शामिल गिरोह की पहचान हुई। सबसे पहले दीपक कुमार को पकड़ा गया। इसके पास से राजीवनगर से लूटा गया मोबाइल बरामद हुआ था। इसकी निशानदेही पर घटना में शामिल तीन और लुटेरों को गिरफ्तार किया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The crooks used to rob days earnings