MHA sends advisory to states to ramp up security ahead of Ayodhya verdict - चौकन्ना हुआ देश का सुरक्षा तंत्र DA Image
17 नबम्बर, 2019|5:30|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौकन्ना हुआ देश का सुरक्षा तंत्र

अयोध्या में विवादित ढांचा मामले में प्रतिक्षित उच्चतम न्यायालय के फैसले के मद्देनजर केन्द्र सरकार ने सभी राज्यों को सतर्कता बरतने और कानून व्यवस्था की स्थिति पर कड़ी नजर बनाए रखने को कहा है।  उत्तर प्रदेश में एहतियात के तौर पर केन्द्रीय पुलिस बलों के लगभग 4000 जवानों को भेजा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  भी केन्द्रीय परिषद की बैठक में सभी मंत्रियों को इस फैसले के बारे में बेवजह के बयानों से बचने की सलाह दे चुके हैं। 

फैसले से पहले लाखों की संख्या में रामभक्तों के अयोध्या पहुंचने के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार से केन्द्र ने विशेष एहतियात बरतने को कहा है। उल्लेखनीय है कि उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ ने अयोध्या मामले की सुनवाई गत 16 अक्तूबर को पूरी कर ली थी और अपना फैसला सुरक्षित रखा था। 

पीठ न्यायमूर्ति गोगोई के सेवानिवृत्त होने से पहले 17 नवंबर को इस मामले में अपना फैसला सुना सकती है।  दशकों से चले आ रहे इस विवाद के समाधान पर पूरे देश की नजरें लगी हैं। दोनों पक्ष अब तक यही कहते आये हैं कि वे उच्चतम न्यायालय के फैसले का सम्मान करेंगे। हिन्दू और मुस्लिम समाज ने लोगों से फैसले के मद्देनजर सामाजिक सौहार्द्र बनाये रखने की अपील की है। उत्तर प्रदेश के बेहद संवेदनशील जिले कानपुर में सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी कर दी गई है। यहां 204 संवेदनशील,अति संवेदनशील स्थान चयनित किए गए हैं जहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MHA sends advisory to states to ramp up security ahead of Ayodhya verdict