DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीवीपैट पर्चियों के औचक मिलान पर अगले सप्ताह होगा विचार

सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को लोक सभा चुनाव में ईवीएम के साथ वीवीपैट की पर्चियों के औचक मिलान की संख्या और ज्यादा करने के लिये 21 विपक्षी नेताओं की पुनर्विचार याचिकाओं पर अगले सप्ताह सुनवाई करने के  लिये तैयार हो गया।

शीर्ष अदालत ने आठ अप्रैल को निर्वाचन आयोग को निर्देश दिया कि मतगणना के लिये इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों के साथ लगी वीवीपैट की पर्चियों के मिलान की प्रक्रिया प्रति विधान सभा क्षेत्र एक मतदान केंद्र से बढ़ाकर पांच मतदान केंद्र की जाये। 

हालांकि, शीर्ष अदालत ने प्रत्येक विधान सभा क्षेत्र में कम से कम 50 फीसदी पर्चियों का मिलान करने का विपक्षी नेताओं का अनुरोध अस्वीकार कर दिया था। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष याचिकाकर्ताओं की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने इस याचिका पर शीघ्र सुनवाई करने का अनुरोध किया। उन्होंने पीठ से अनुरोध किया कि पुनर्विचार याचिका अगले सप्ताह सुनवाई के लिये सूचीबद्ध की जाये। पीठ ने सिंघवी का यह अनुरोध स्वीकार करते हुये कहा कि पुनर्विचार याचिका पर अगले सप्ताह सुनवाई की जायेगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Supreme court to hear 21 opposition leaders reconsideration petition