DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्मी से लड़ने की करें तैयारी

गर्मी में अकसर लोग पेट की बीमारियों से ग्रस्त रहते हैं। ऐसे में जरूरी है कि ऐसी चीजों से परहेज करें, जो आपको बीमार बना रही हों। तली-भुनी चीजें वैसे तो हर मौसम में स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती हैं, लेकिन गर्मियों में सही से न पचने के कारण आपको कब्ज, बदहजमी और पेट दर्द जैसी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए तली-भुनी चीजों से दूर ही रहें। इसकी बजाय उबला, भुना या भाप में पका खाना खाएं। 

मसालेदार भोजन ठीक नहीं 
जिस तरह तला-भुना खाने से आपको पेट की समस्या का सामना करना पड़ता है, उसी तरह मसालेदार भोजन भी स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी हानिकारक होते हैं। गर्मी में मिर्च, काली मिर्च, जीरा, दालचीनी, अदरक आदि गर्माहट देने वाले मसालों से बचना चाहिए, क्योंकि मिर्च या गर्म चीजें खाने से एसिड अधिक मात्रा में बनता है । ये चीजें शरीर में गर्मी का संचार करती हैं व चयापचय की दर अर्थात मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ावा देती हैं, जिससे आप बार-बार बीमार पड़ने लगते हैं।

मांसाहारी भोजन से बचें 
यदि आप मांसाहारी हैं तो यह जानना जरूरी है कि गर्मी में अधिक मात्रा में मांस खाना आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। रेड मीट, अंडा, प्रॉन आदि बहुत गर्मी पैदा करते हैं, साथ ही इनको पचाना बेहद मुश्किल हो जाता है। इसे खाने से पेट की समस्या पैदा हो जाती है, जिससे आपको डायरिया होने का खतरा बन जाता है। 

बासी खाना न खाएं 
कई लोग फ्रिज में काफी दिनों तक खाना रखे रहते हैं और उसे दो-तीन दिनों तक खाते हैं। स्वास्थ्य के लिए यह बेहद हानिकारक है। ध्यान रखें कि बासी खाना आपके लिए सही नहीं है, साथ ही गर्मियों में तो उनमें बैक्टीरिया और भी तेजी से पनपते हैं। इस मौसम में एक रात से ज्यादा पुराना खाना न खाएं।

जंक फूड 
यदि आप कामकाजी हैं और अकसर आपको बाहर कुछ न कुछ खाना पड़ ही जाता है तो भी इस मौसम में पिज्जा, बर्गर, फ्रेंच फ्राइज, चिप्स, हॉट डॉग आदि खाने से बचें। ये सभी चीजें पाचन संबंधी समस्या पैदा करेंगी।
चाय और कॉफी : इन पेय पदाथार्ें से निश्चित रूप से परहेज करना चाहिए। कैफीन और अन्य पेय पदार्थ वास्तव में आपके शरीर में गर्मी बढ़ाने के साथ शरीर में डीहाइड्रेशन पैदा करते हैं। 

गर्मी दूर भगाने के तरीके
खूब पानी पिएं 

गर्मियों में अधिक पसीना आने से शरीर को काफी नुकसान होता है, क्योंकि इससे शरीर से पानी और नमक दोनों बाहर आ जाते हैं। ऐसे में डीहाइड्रेशन से बचने के लिए रोजाना 10-15 गिलास पानी पीना चाहिए। कम पानी पीने से यूटीआई ( यूरीन ट्रैक इन्फेक्शन) जैसी बीमारियां भी हो सकती हैं। मटके का पानी पीना बेहतर है, लेकिन फ्रिज का बहुत ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए।
नींबू पानी : गर्मियों में नींबू पानी पिना काफी लाभदायक रहता है। नींबू पानी में थोड़ा काला नमक और नींबू मिलाकर पिएं। यदि इसमें थोड़ी चीनी भी मिला लेते हैं तो यह और भी फायदेमंद साबित होगा। नींबू पानी से पसीने के रूप में निकलने वाले नमक की भरपाई हो जाती है।

नारियल पानी 
गर्मियों में यदि आप नारियल पानी का सेवन करते हैं तो ये अमृत के समान है। ये आपके शरीर को ठंडा तो रखता ही है, शरीर में एसिड भी नहीं बनने देता। शुगर के मरीज भी नारियल पानी पी सकते हैं।

धनिया, पुदीना और प्याज खाएं 
इस मौसम में हरी चटनियों का सेवन कर सकते हैं। धनिया, पुदीना, आंवला, प्याज आदि की चटनी बनाकर भोजन में शामिल करें। यह खाने का स्वाद भी बढ़ाती है और मौसम के अनुरूप भी है।

फलों का सेवन 
गर्मियों में बेहद अलग-अलग तरह के फल आते हैं, जिनमें पानी की काफी मात्रा होती है। खरबूजा, तरबूज, लीची आदि का आप भरपूर सेवन करें, ये  शरीर को ठंडा रखने के साथ आपको स्वस्थ भी रखेंगे।

तपिश और लू से बचने के लिए हर्बल चाय
सुनने में अजीब लग सकता है, लेकिन चाय से आपको गर्मी में ठंडक मिल सकती है। बस आपको मौसम के अनुसार चाय बदलनी होगी। ज्यादातर लोग दिन की शुरुआत दूध वाली चाय से करते हैं। मगर गर्मी के मौसम में दूध की चाय की जगह अगर हर्बल चाय पी जाए, तो ज्यादा लाभ मिलेगा। हर्बल चाय एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं इसलिए कैंसर, मधुमेह और उच्च रक्तचाप जैसे रोगों से बचाती हैं और शरीर से गंदगी को बाहर निकालती हैं। कई जड़ी-बूटियां हैं, जो गर्मी के मौसम में आपके शरीर को ठंडक पहुंचाती हैं और लू, हीट स्ट्रोक, पेट समस्याओं से बचाती हैं। इनके रोजाना सेवन से आपकी पाचन क्रिया भी तेज होती है। 

ताजे गुलाब की पत्तियों की चाय 
इसे पीने से त्वचा पर चमक बढ़ती है। कई विटामिन मौजूद होते हैं। डेढ़ कप पानी लें और इसमें एक ताजे गुलाब की पत्तियां डाल दें। अब 1 मिनट तक उबालने के बाद इसे 3 मिनट बाद छानकर पिएं। 

प्याज की चाय 
प्याज में क्वेरसेटिन नाम का तत्व होता है, जो फ्री रेडिकल्स से लड़ने में शरीर की मदद करता है। डेढ़ कप पानी उबालें और उसमें प्याज के टुकड़े डाल दें। 1 मिनट बाद ग्रीन टी डालकर ढंक दें और बाद में छानकर पिएं। 

ग्रीन टी 
इसमें कई महत्वपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को तेज करते हैं। इसके सेवन से कई जानलेवा बीमारियों से बचाव होता है।  

तुलसी की चाय 
तुलसी भी एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। गर्म पानी में 6-7 तुलसी की पत्तियों को डाल दें। 2 मिनट ढककर रखने के बाद छान लें। अब आधा नींबू का रस और एक छोटा चम्मच शहद मिलाकर पिएं। पेट, आंखों, किडनी, गुर्दे और दिल के लिए बहुत फायदेमंद है। 

पुदीने की चाय 
पुदीना पेट के लिए फायेदमंद माना जाता है। पुदीने में काफी ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। पुदीने में विटामिन ए, मैग्नीशियम, फॉलेट और आयरन भरपूर होता है। ये पेट में बनने वाले पाचक रस को बढ़ाता है। उबलते पानी में दो बड़े चम्मच पुदीना के पत्ते डालकर दस-पंद्रह मिनट तक उबालें। उबलने के बाद छानकर पिएं। चाहें तो शहद डालें। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prepare to fight heat