DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिमाग के जरिए नियंत्रित कर सकेंगे वीडियो गेम

स्विट्जरलैंड में वैज्ञानिकों ने ऐसी तकनीक तैयार की, जिससे लोग वीडियो गेम को दिमाग के जरिए भी नियंत्रित कर सकते हैं। डब्ल्यूआईओएन के मुताबिक, तकनीक को इस तरह से विकसित किया गया है, जिससे कोई भी व्यक्ति अलग हुए मोटर फंक्शन्स, जैसे क्वाड्रिलेजिया के जरिए अपने दिमाग का उपयोग कर वीडियो गेम खेल सकता है। 

ब्रेन ड्राइवर है प्रोग्राम का नाम
इस प्रोग्राम का नाम ब्रेन ड्राइवर रखा गया है। इसका ट्रायल कई लोग कर रहे हैं, जिसमें एक ऐसा इंसान शामिल है, जिसका शरीर एक एक्सीडेंट के बाद से पूरी तरह लकवाग्रस्त हो चुका है। यूरो न्यूज के मुताबिक, कुंज इस गेम (कार) को डिजिटल पिक्चर के जरिए खेल रहे हैं, जिसमें वह दिमाग के जरिए कार को ऑपरेट कर रहा है, लेकिन उसने बताया कि इसमें काफी एकाग्रता की जरूरत होगी।

गेम को नियंत्रित करने के लिए भी एकाग्रता जरूरी
उसने कहा- मुझे बहुत एकाग्र होना है। मेरी उंगलियों और मेरे मस्तिष्क के बीच का संबंध अब नहीं है। मैं अभी भी अपनी उंगलियों को अपने सिर में घुमाने की कोशिश करता रहता हूं। उसमें जैसे काफी एकाग्रता की जरूरत होती है ठीक उसी तरह इस गेम को नियंत्रण करने के लिए भी एकाग्र होना जरूरी है। दिमाग के संकेतों का उपयोग कर इस वीडियो गेम को कंट्रोल किया जा सकता है। उपयोगकर्ताओं के सिर से इलेक्ट्रोड जुड़ेंगे और फिर उन्हीं इलेक्ट्रोड को कंप्यूटर से जोड़ा जाएगा। जिसके बाद यह दिमागी खेल हो जाएगा। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस प्रोजेक्ट का लक्ष्य सीमित गतिशीलता वाले लोगों को जोड़ने का है। एक व्यक्ति जिसका पूरा शरीर खराब है और सिर्फ दिमाग काम कर रहा है वो भी इस गेम को खेल सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Video games can be controlled through brain