DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेशमा ने संभाल रखा था मोर्चा

दानापुर कोर्ट में पेशी के दौरान मिराज को छुड़ाने के लिए उसकी पत्नी रेशमा ने पूरा प्लान तैयार किया था। एक सप्ताह से वह कोर्ट की सुरक्षा को भेदने के लिए काम कर रही थी। वह दो बदमाशों से लगातार संपर्क में थी। तीनों ने मिलकर ही घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने रेशमा और उसके एक सहयोगी बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक अन्य की तलाश में छापेमारी की जा रही है। 

बुधवार को दानापुर कोर्ट में मिराज के पेशी पर आने से पहले रेशमा ने उसे छुड़ाने का चक्रव्यूह तैयार कर कर लिया था। रेशमा दो बदमाशों के साथ कोर्ट परिसर में पहले से ही मौजूद थी। योजना इतनी सटीक बनाई गई थी, जिससे वह अपने मिशन में सफल हो जाए। पेशी के दौरान कई बार रेशमा कोर्ट में गई थी। शाम चार बजे भी वह कोर्ट में थी। घटना के कुछ ही समय पहले वह कोर्ट के बाहर गेट पर पहुंची और साथ लाए बदमाशों से बातचीत करने के बाद मिराज के बस में बैठने का इंतजार करने लगी। 

रेशमा के इशारे पर बदमाशों ने चलाई गोली 
पुलिस सूत्रों की मानें तो मिराज को कोर्ट के हाजत से निकालकर जैसे ही कैदी वाहन की तरफ लेकर चला गया, रेशमा ने बदमाशों को फायरिंग करने की हरी झंडी दे दी। दानापुर कोर्ट के मेन गेट पर जैसे ही बदमाशों ने फायरिंग की, मिराज कोर्ट परिसर से भागकर गेट पर पहुंच गया। इस दौरान रेशमा बदमाशों को मिराज को लेकर भागने का संकेत देती रही। सूत्रों की मानें तो कोर्ट के बाहर कई गाड़ियों की व्यवस्था की गई थी।

मिराज ने मारी थी सिपाही को गोली 
पुलिस अधिकारियों का दावा है कि सिपाही को मिराज ने ही गोली मारी थी। बाहर कोर्ट गेट पर जैसे ही बदमाशों ने फायरिंग की, मिराज पुलिस कस्टडी से भागने लगा और गेट तक पहुंच गया, लेकिन तब तक सिपाही मनोज वहां पहुंच गया। मिराज को बचाव के लिए बदमाशों ने पिस्टल थमा दी। हाथ में पिस्टल आते ही मिराज ने सिपाही को गोली मार दी, लेकिन तब तक मनोज भी आ गया और मिरोज को गिरफ्तार कर लिया। 

शहीद सिपाही को दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर 
गुरुवार को शहीद सिपाही को गार्ड ऑफ ऑनर देकर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय व अन्स पुलिस अधकारियों ने कहा कि अपराधियों के खिलाफ अब बड़ी मुहिम चलेगी। गुरुवार को एसएसपी गरिमा मलिक ने दानापुर क्षेत्र में जांच-पड़ताल कराई। उन्होंने बताया कि रेश्मा और मुनव्वर के साथ मिराज पर कार्रवाई की गई है। तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। एक अपराधी फरार है, जिसके लिए छापेमारी जारी है। इधर, कोर्ट की सुरक्षा को लेकर भी डीजीपी ने निर्देश दिया है।  सूत्रों की मानें तो रेशमा को बुद्धा कॉलानी क्षेत्र के एक गर्ल्स हॉस्टल से गिरफ्तार किया गया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Reshma had planned to break Miraj from Danapur court