Independence day Cultural programs organized in many colleges of Patna - जश्न-ए-आजादी में डूबे विद्यार्थी: पटना के कई कॉलेजों में आयोजित हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जश्न-ए-आजादी में डूबे विद्यार्थी: पटना के कई कॉलेजों में आयोजित हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम

राजधानी के कॉलेजों में विद्यार्थी जश्न-ए-आजादी में डूबे रहे। छात्र-छात्राओं ने देशभक्ति गीतों पर मनमोहक नृत्य प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया।  मगध महिला कॉलेज, पटना वीमेंस कॉलेज, जेडी वीमेंस कॉलेज और अरविन्द महिला कॉलेज में स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उजले रंग के सलवार कमीज पर केसरिया दुपट्टा के साथ हाथों में तिरंगा बनाकर छात्राओं ने स्वतंत्रता दिवस के गौरव को बयां किया। जैसे ही छात्राओं ने देशभक्ति गीतों पर नृत्य करना शुरू किया। छात्राएं क्या शिक्षक-शिक्षिकाएं भी सुर में सुर मिलाकर देशभक्ति गीत गाने लगे। 

ऐ वतन, वतन मेरे आबाद रहे तू... 
देश रंगीला, रंगीला, देश मेरा रंगीला, ऐ वतन, वतन मेरे आबाद रहे तू, मैं जहां रहूं, जहां में साथ रहे तू..,जैसे देशभक्ति गीतों के साथ मगध महिला कॉलेज का प्रांगण स्वतंत्रता के रंग में रंग गया।  

गायन प्रतियोगिता में अंग्रेजी विभाग की छात्राओं ने बाजी मारी 
कॉलेज की छात्राओं के बीच देशभक्ति गीतों की प्रतियोगिता की गई। सबसे पहले ग्रुप सांग आयोजित गई। इसके बाद ऐ मेरे वतन के लोगों, जरा याद करो कुर्बानी, ऐ मेरे प्यारे वतन, हर करम अपना करेंगे, ए वतन तेरे लिये, भारत अनोखा रंग है, देश रंगीला-रंगीला, देश मेरा रंगीला जैसे देशभक्ति गीतों की प्रतियोगिता हुई। इसमें अंग्रेजी विभाग सुप्रभा घोष और सुकृति शांडिल्य को ऐ मेरे वतन के लोगों गीत गाने के लिए पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन प्राचार्य प्रोफेसर शशि शर्मा ने किया। इस मौके पर प्रोफेसर पुष्पांजलि खरे, डॉ जनार्दन प्रसाद, डॉ अर्चना जायसवाल, डॉ श्वेता और डॉ अरविन्द कुमार मौजूद रहे।

हम हिन्दुस्तानी हैं.... 
पटना वीमेंस कॉलेज में 73वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम की शुरुआत देशभक्ति गीत न पूछो जमाने से क्या हमारी कहानी है, हमारी पहचान तो सिर्फ ये है कि हम हिन्दुस्तानी हैं। राजनीतिशास्त्र विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में डॉ प्रभा कुमार ने कहा कि कश्मीर के लोगों को अनुच्छेद 370 और 35 हटने के बाद सही मायने में आजादी मिली है। उरी हमले में शहीद हुए सैनिकों के बलिदान पर चित्रण किया गया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Independence day Cultural programs organized in many colleges of Patna