DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आक्रोश: प्रापर्टी डीलर की हत्या के बाद फूटा गुस्सा, बाईपास पर थमी रफ्तार

अपहरण के बाद प्रापर्टी डीलर अवधेश की हत्या से मंगलवार को बाईपास पर तीन घंटे रफ्तार थमी रही। आक्रोश की आग ऐसी भड़की कि शव रखकर न्यू बाइपास को जाम कर दिया गया। तीन घंटे में पांच किलो मीटर से अधिक लंबी गाड़ियों की कतारें लग गईं। मंगलवार सुबह साढ़े छह से 11 बजे तक प्रदर्शनकारियों से पुलिस की कई बार झड़प हुई। प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ तो की ही, पुलिस पर भी पथराव किया। मामला बेकाबू होता देख पुलिस ने लाठियां भी फटकारीं। इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। 

प्रदर्शनकारियों ने कहा- बच सकती थी जान 
विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि पुलिस ने घटना में अनुसंधान सही से किया होता और तेजी दिखाई होती तो जान बच सकती थी। परिजनों ने मुआवजे की मांग की है। पुलिस ने सख्ती करते हुए शव को अंत्येष्टि के लिए भिजवाया। पुलिस ने आश्वासन दिया कि अपराधी गिरफ्तार होंगे और पूरी तरह से न्याय मिलेगा, तब जाम छूटा। डीएसपी किरण कुमार यादव ने भीड़ को आश्वस्त किया कि जल्दी ही अपराधियों की गिरफ्तारी होगी।

जाम का झाम :
6 थानों की पुलिस जाम को हटाने में लगी रही।
14 दारोगा के साथ कई इंस्पेक्टर संभाल रहे थे मोर्चा।
2 से अधिक डीएसपी हर समय अधिकारियों को दे रहे थे हालात की जानकारी।
1000 से अधिक बड़ी गाड़ियां जाम के कारण अटकी रहीं।
3 से चार लोगों के साथ मारपीट का भी आरोप लगा है, हालांकि पुलिस का इनकार है।
1 दर्जन से अधिक छोटे बड़े एम्बुलेंस जाम में फंसे लेकिन उन्हें रास्ता दिलाया गया।

जाम करने वालों के खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है। अगर पुलिस पर लापरवाही का आरोप है तो इसकी भी जांच की जाएगी।
-गरिमा मलिक,  एसएसपी 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After murder of property dealer anger erupts speed stop on bypass