DA Image
2 जनवरी, 2021|3:56|IST

अगली स्टोरी

हिन्दुस्तान मिशन शक्ति: गरीब महिलाओं को आजीविका से जोड़ रही बिजनौर की नंदिनी

हिन्दुस्तान मिशन शक्ति: गरीब महिलाओं को आजीविका से जोड़ रही बिजनौर की नंदिनी

गांव जालबपुर गुदड़ की रहने वाली नंदिनी राजपूत घर के कामकाज तक ही सिमटी हुई थी, लेकिन साल 2010 से उन्होंने महिलाओं की मदद करने का बीड़ा उठाया।

नंदिनी राजपूत ने बताया कि साल 2010 में गांव की एक महिला उनके पास आई, जिसने सिलाई मशीन दिलाने को कहा। महिला की मजबूरी देखते हुए अपने पैसों से उसे सिलाई मशीन दिलवा दी। बताया कि उस महिला की मदद करने के बाद लगा कि आस-पास तमाम ऐसी महिलाएं हैं जो गरीबी से जूझ रही हैं, लेकिन काम नहीं है। इसके साथ साल 2012 में नंदिनी राजपूत ने गांव में समूहों का गठन कराना शुरू किया। गांव की डेढ़ सौ से अधिक महिलाओं को समूह से जोड़कर उन्हें एक दूसरे की मदद करने के लिए प्रेरित किया। महिलाएं बचत करके एक दूसरे की दिक्कतों में काम आने लगीं। गरीब महिलाओं के कहने पर ही नंदिनी राजपूत साल 2015 में प्रधान पद के चुनाव में विजयी हो गईं। ग्राम प्रधान बनने के बाद उन्होंने सबसे पहले गांव की गरीब कन्याओं के विवाह में सिलाई मशीन देने की योजना चलाई। इसके साथ ही रजाई वितरण और गरीब कन्याओं की शादी में मदद करने की योजना भी चलाई। इसके अलावा समूहों से जुड़ी महिलाओं को आगे बढ़ाने का काम किया। प्रधान रहते हुए भी अपने बेहतर कामकाज के चलते राज्य सरकार और केंद्र सरकार से भी चार पुरस्कार हासिल किए हैं।

नंदिनी राजपूत

पेशा -समाज सेविका एवं पूर्व प्रधान

शैक्षिक योग्यता -एमए

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindustan Mission Shakti Bijnor 39 s Nandini connecting poor women with livelihood