DA Image
4 मार्च, 2021|2:35|IST

अगली स्टोरी

हिन्दुस्तान मिशन शक्ति : सिद्धार्थनगर की गायत्री ने पढ़ाने के साथ सौ लड़कियों को सिलाई में ट्रेंड किया

हिन्दुस्तान मिशन शक्ति : सिद्धार्थनगर की गायत्री ने पढ़ाने के साथ सौ लड़कियों को सिलाई में ट्रेंड किया

सिद्धार्थनगर। कार्यालय संवाददाता

अपनी जिम्मेदारियां निभाने के साथ कुछ अलग करने वाले पहचान बनाते हैं। परिषदीय स्कूल की शिक्षिका गायत्री देवी ने ऐसा ही किया। बच्चों को शिक्षित करने के साथ-साथ बालिकाओं को सिलाई-कढ़ाई में भी निपुण बना रही हैं। अब तक सौ से अधिक बालिकाओं को सिलाई-कढ़ाई में पारंगत कर चुकी हैं।

शोहरतगढ़ क्षेत्र के पूर्व माध्यमिक विद्यालय मलगवा की शिक्षिका गायत्री देवी एमए, बीएड हैं। बचपन से उनका सपना शिक्षक बनने का था। शिक्षक बनने की उनकी मंशा पीछे गांव का माहौल था, जहां की बालिकाएं स्कूल जाना तो दूर सिलाई-कढ़ाई तक नहीं जानती थीं। यह बात गायत्री को बहुत सालती थी। उन्होंने तय किया कि शिक्षक बनकर न सिर्फ बच्चों को बेहतर शिक्षा देंगी बल्कि उनके अंदर संस्कार भी पैदा करेंगी। परिषदीय स्कूल में नौकरी मिली तो उन्होंने अपने पढ़ाने के अंदाज से बच्चों को स्कूल की ओर खींचना शुरू किया। हर सत्र में विद्यालय में बच्चे बढ़ते चले गए। इस दौरान उन्हें गांव के हालात याद रहे।

बालिकाओं को हुनरमंद बनाने के लिए पढ़ाने के बाद वह उन्हें सिलाई-कढ़ाई के गुर सिखाने लगीं। बच्चियों की भी रुचि बढ़ी। अब तक सौ से अधिक बच्चियों को वह सिलाई-कढ़ाई में निपुण बना चुकी हैं। काबिलियत के बल पर गायत्री का चयन राज्यस्तरीय संदर्भदाता मीना मंच सुगमकर्ता के लिए हो चुका है। बच्चों व अभिभावकों के बीच गायत्री ने परिवार के सदस्य के रूप में पहचान बना रखी है। इससे बच्चों की उपस्थिति शतप्रतिशत रहती है।

एक नजर

गायत्री देवी

निवासी: छतहरी, शोहरतगढ़

पेशा: शिक्षिका

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindustan Mission Shakti Gayatri of Siddharthnagar has taught and trained hundred girls in sewing