DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सबसे कम सोते हैं एशिया के लोग

एक हालिया शोध में पता चला है कि एशिया के युवा और अधेड़, रात में महज साढ़े छह घंटे सोते हैं। सेहत के लिहाज से यह ठीक नहीं। ऐसे लोगों को दिल के दौरे का खतरा आम लोगों से कई गुना ज्यादा होता है। साथ ही उन्हें थकान, उच्च रक्तचाप और अचानक वजन गिरने जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं
काम पूरा करने का दबाव, तनाव का बोझ और स्मार्टफोन जैसे हमेशा हाथ में रहने वाले उपकरण- इन सबने मिलकर एक अच्छी नींद को लोगों के लिए सपना बना दिया है। हालांकि अब ज्यादातर लोगों को मालूम है कि नींद की कमी सेहत के लिए कितनी घातक है। इससे थकान, अचानक वजन गिरने, आंखों के इर्द-गिर्द काले घेरे बनने, चिंता, उच्च रक्तचाप जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। समस्याओं की यह सूची वास्तव में काफी लंबी है। पर्याप्त नींद न लेने से कई प्रकार की मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं। जो लोग रोजाना रात में सात घंटे से कम सोते हैं, उन्हें दिल की बीमारी होने का खतरा ज्यादा होता है। 
एक नए अध्ययन के हवाले से शोधकर्ताओं ने बताया है कि एशिया में युवा और अधेड़ अन्य देशों के लोगों के मुकाबले सबसे कम सोते हैं। इसकी वजह अमूमन आधुनिक जीवनशैली ही होती है। ऑस्ट्रेलिया स्थित फ्लिंडर्स विश्वविद्यालय के शोधकर्ता एम. ग्रैडिसर कहते हैं,‘पश्चिम के मुकाबले एशियाई देशों में लोगों को काम और पढ़ाई से जुड़ी चीजों में ज्यादा समय देना पड़ता है। यह उनके कम नींद लेने की वजह हो सकती है।’ 
शोधकर्ताओं ने पाया कि एशिया में युवा वयस्क एक दिन में सिर्फ साढ़े छह घंटे सोते हैं। यह अवधि (दुनिया में) सबसे कम थी। जबकि ओशेनिया में लोग औसतन सवा सात घंटे सोते हैं। यूरोप में अनुमानित अवधि सात घंटे से कुछ ज्यादा थी। वहीं मध्य व दक्षिणी अमेरिका और पश्चिमी एशिया में लोगों के सोने की दैनिक अवधि छह घंटे और 40 मिनट थी। ग्रैडिसर कहते हैं,‘हमारे शोध के नतीजों ने दिखाया कि सांस्कृतिक कारक दुनियाभर के युवाओं के सोने के अवसरों को प्रभावित करते हैं।’ इस अध्ययन के लिए शोधकर्ताओं ने 17,335 लोगों की नींद संबंधी आदतों का विश्लेषण किया। इन सभी लोगों को फिटनेस ट्रैकर पहनने के लिए कहा गया था। इसके जरिये उनकी 14 दिन की नींद की निगरानी की गई। शोधकर्ताओं ने प्रतिभागियों की नींद की अवधि, उसकी गहराई और हफ्ते भर में उन्होंने कितनी देर तक नींद ली, इन सबका हिसाब किया। प्रतिभागियों की उम्र 16 से 30 वर्ष थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The people of Asia sleep the least