DA Image
29 जनवरी, 2020|1:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रश्मि खुराना की प्रदर्शनी समय की रेत पर ...

उनकी कला किसी टूटे-बिखरे को जोड़ती हुई, गुलाबी-नीले रंगों से सरोबार आंखों के आगे एक अलहदा सा नजारा पेश करती है। चित्रकार रश्मि खुराना अपनी प्रदर्शनी ‘सैंड्स ऑफ टाइम’ में जीवन, समय और स्थान से जुड़े कई पहलुओं को अभिव्यक्त करती हैं। इस प्रदर्शनी में जाना आपके लिए दिलचस्प होगा
पिंक सी का समुद्रीतट, रंगों से भरा गलीचा या फिर दीवारों पर रंगों की परत...यह कुछ भी हो सकता  है! कलाकार रश्मि खुराना की अद्भुत चित्रकारी को आप किसी भी तरह देख सकते हैं। दिल्ली में लगी प्रदर्शनी में आप उनके इन अद्भुत नमूनों का लुत्फ उठा सकते हैं। प्रदर्शनी का नाम ‘सैंड ऑफ टाइम्स’ आनी समय की रेत है।
क्यूरेटर राहुल भट्टाचार्य के इस शो में शामिल प्रदर्शनियों में प्रवाह और स्थानीयता की एक छाप है। इनमें गुलाबी और लीलैक (नीले रंग) जैसे शांत शेड्स का प्रयोग हुआ है, जो किसी जल-प्रपात की तरह एक-दूसरे के साथ घुले-मिले नजर आते हैं।  इन पेंटिंग्स में एक प्रवाह और गतिशीलता है, जो किसी भी बंधन से परे है। यह पद्धति काफी हद तक स्कल्पचर जैसी प्रतीत होती है। दिलचस्प बात यह है कि यह जापानी ऐस्थेटिक, किन्त्सुगी के बहुत करीब है, जिसमें मिट्टी के टूटे हुए बर्तनों को जोड़ने के लिए लाख, चांदी, प्लैटिनम का डस्ट मिलाया जाता है। इसलिए, फटे हुए कागजों को क्रश करके, मैश करके, उसे पेंट करके कला में बदलने की यह प्रक्रिया रश्मि खुराना के लिए एक तरह से रेस्टोरेशन का काम है।
दिल्ली के एक स्कूल में शिक्षिका रह चुकीं रश्मि कहती हैं,‘कला का यह रूप आधुनिक अमूर्त कला का नमूना है, जहां पेंटिंग, निर्माण, सफाई और हीलिंग के बीच का फर्क पाट दिया गया है। मेरे लिए पेंटिंग खुद से मिलने जैसा काम है। चित्रकारी करते हुए एक ही समय में दिमाग बहुत भरा सा और बहुत खाली भी रहता है।’
समय और स्मृति, ये दो महत्वपूर्ण थीम्स हैं रश्मि के आर्टवर्क की। इनका शीर्षक ही समय की रेत है। दर्शक उनके इस इंस्टॉलेशन स्टाइल ‘एरो ऑफ टाइम’ से काफी प्रभावित होते हैं। कैनवस पर खेलते गुलाबी और नीले रंग आंखों को सुंदर लगते  हैं। यह तय है कि जो भी रश्मि की चित्रकारी देखेगा, वो इसका अर्थ खोजने की जुगत में जरूर लगेगा। खुराना, जो जर्मन चित्रकार और मूर्तिकार अनसेम कीफर से प्रेरित हैं, खुशी के साथ अपने चित्रों के बारे बताती हैं, ‘अगर समय एक तीर है, तो यह अंतहीन रूप से आगे बढ़ा है, बढ़ रहा है और आगे भी बढ़ेगा।  साथ ही हमें भी अपने साथ खींचे लिए जा रहा है।  जीवन और समय के साथ हाथ मिलाते हुए कैनवास  इन तीरों, स्मृतियों और कई तहों को चित्रित करता है।’

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:painter Rashmi Khurana exhibition Sands of Time in delhi